अपना शहर चुनें

States

बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा को लगा बड़ा झटका, कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका

फाइल फोटो
फाइल फोटो

पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के घर पर छापामारी की गई थी इस दौरान उनके मकान से बक्सा में रखा 50 जिंदा कारतूस बरामद किया गया था.

  • Share this:
आर्म्स एक्ट के मामले मे जेल में बंद बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा की जमानत याचिका को कोर्ट ने खारिज कर दिया है. अभियोजन की ओर से अपर लोक अभियोजक राजकुमार महतो ने जमानत का पुरजोर विरोध करते हुए न्यायालय को बताया कि आरोपित के घर से जिंदा कारतूस की बरामदगी पुलिस द्वारा की गई है.

उन्होंने न्यायालय को बताया कि पूर्व मंत्री मंजू वर्मा की अग्रिम जमानत याचिका जिला जज एवं पटना उच्च न्यायालय द्वारा पूर्व में खारिज की जा चुकी है और अनुसंधानकर्ता ने आरोपित के विरुद्ध न्यायालय में चार्जशीट दाखिल कर दिया है साथ ही अभियोजन की स्वीकृति भी ले ली है.

आरोपित मंजू वर्मा की ओर से अधिवक्ता प्रभाकर वर्मा एवं शाह इज्जुर रहमान ने न्यायालय में पक्ष रखते हुए बताया कि पूर्व मंत्री मंजू वर्मा  जेल जाने के बाद से काफी बीमार चल रही हैं और कई बार जेल से अस्पताल इलाज के लिए लाया गया है. उन्होंने आगे बताया कि जिस मकान से कारतूस की बरामदगी पुलिस द्वारा की गई है वो मंजू वर्मा के हिस्से का मकान नहीं है बल्कि 50 परिवारों की संयुक्त संपत्ति है जिसमें कोई भी आ-जा सकता है.



न्यायालय ने बचाव पक्ष की दलील को खारिज करते हुए मामले की गंभीरता को देखते हुए पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के जमानत आवेदन को खारिज कर दी. ज्ञात हो कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में जांच कर रहे पटना सीबीआई द्वारा अनुसंधान के क्रम में पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के घर पर छापामारी की थी और मकान के बक्सा में रखे 50 जिंदा कारतूस बरामद की गई थी.
इस मामले में चेरिया बरियारपुर पुलिस द्वारा पूर्व मंत्री मंजू वर्मा और उसके पति चंद्रशेखर वर्मा के विरुद्ध आर्म्स एक्ट के तहत चेरिया बरियारपुर थाना कांड संख्या 143 /18 दर्ज की है.

रिपोर्ट- संतोष कुमार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज