• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • 'कोई भी पद और विभाग छोटा नहीं होता है. जो मंत्रालय मुझे मिला है वह बड़ा महत्वपूर्ण है'

'कोई भी पद और विभाग छोटा नहीं होता है. जो मंत्रालय मुझे मिला है वह बड़ा महत्वपूर्ण है'

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह

'मुझे पीएम मोदी के नेतृत्व में उस टीम का हिस्सा बनने का एक बार फिर से मौका मिला है, जो देश को 11वें पायदान से छठे पायदान पर ले आया है.'

  • Share this:
बेगूसराय से बीजेपी  सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने पशुपालन, डेयरी और मतस्य मंत्रालय का पदभार संभाल लिया है. गिरिराज सिंह ने मंत्रालय संभालने के बाद न्यूज 18 के साथ खास बातचीत में कहा, 'वह पीएम मोदी के भरोसे और सपनों को साकार करूंगा. मुझे पीएम मोदी के नेतृत्व में उस टीम का हिस्सा बनने का एक बार फिर से मौका मिला है, जो देश को 11वें पायदान से छठे पायदान पर ले आया है. कोई भी पद और विभाग छोटा नहीं होता है. जो विभाग मुझे मिला है वह बड़ा ही महत्वपूर्ण विभाग है.'

गौरतलब है कि गिरिरिज सिंह केंद्र सरकार के पिछले मंत्रिमंडल में भी स्वतंत्र प्रभार के राज्यमंत्री थे. गिरिराज सिंह मोदी सरकार में पहली बार कैबिनेट मंत्री बनाए गए हैं. गिरिराज सिंह बीजेपी के फायरब्रांड नेता माने जाते हैं. शुक्रवार को जैसे ही विभागों का बंटवारा हुआ गिरिराज सिंह ने मंत्रालय पहुंच कर अपना कार्यभार संभाल लिया. मंत्रालय का कार्यभार संभालने के बाद केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि उन्हें जो भी जिम्मेदारी दी गई है, उसे वह पूरी जवाबदेही के साथ निभाएंगे. कृषि प्रधान देश में बिना पशुपालन और मतस्य पालन से किसानों की आय दोगूनी नहीं हो सकती है. इस क्षेत्र में देश के अंदर असीम संभावनाएं हैं. हमने मंत्रालय के अधिकारियों को एक रोडमैप बनाने के लिए कहा है और अगले कुछ दिनों में हम उस पर अमल करना भी शुरू कर देंगे. (ये भी पढ़ें:  PHOTOS: लोकसभा चुनाव 2019 की वो तस्वीरें जिन्हें भुला नहीं पाएंगे आप!)

Modi cabinet, Giriraj Singh, Union Minister Giriraj Singh, Modi Cabinet, Giriraj Singh in Modi Cabinet, animal husbandry minister Giriraj singh exclusive interview with news 18 hindi, Bihar News,news 18 hindi, गिरिराज सिंह, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, मोदी मंत्रिमंडल, मोदी मंत्रिमंडल में गिरिराज सिंह, बिहार, मोदी कैबिनेट, पशुपालन मंत्री      केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह

बता दें कि गिरिराज सिंह बिहार में नीतीश मंत्रिमंडल में भी 2010 से 2013 तक पशुपालन एवं मत्स्य संसाधन मंत्री रह चुके हैं. इस नजरिए से उनका इस क्षेत्र से नाता पुराना है. गिरिराज सिंह बातचीत में कहा क्योंकि वह खुद एक किसान परिवार से हैं तो किसानों की आर्थिक स्थिति उससे बेहतर कोई नहीं समझ सकते हैं. इसलिए हमने किसानों की आय कैसे बढ़े यह मेरा प्रमुख उद्देश्य रहेगा.

मंत्रालय के आवंटन के बाद गिरिराज सिंह ने कहा कि उन्‍हें जो भी जिम्मेदारी दी गई है, उसे वह पूरी जवाबदेही के साथ निभाएंगे. बेगूसराय से कन्‍हैया कुमार को हराने वाले बीजेपी नेता ने कहा कि वह पीएम मोदी के रोडमैप को आगे ले जाने का काम करेंगे. सिंह ने बताया कि बिहार सरकार में बतौर मंत्री वह इस विभाग को पहले भी संभाल चुके हैं.

सिंह ने कहा कि उनका मंत्रालय किसानों की आर्थिक उन्नति में सहयोग देने का काम करेगा. किसान तब तक उन्नति नहीं करेंगे जब तक उनके साथ आय के लिए कोई दूसरा संसाधन मौजूद नहीं होगा. मुझे शायद इसी को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री ने यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी है. मतस्य पालन और डेयरी को हम किसानों के आय का आर्थिक जरिया बनाने का काम करेंगे.

गिरिराज सिंह ने 100 दिन के लक्ष्य हासिल करने के सवाल पर कहा, 'आप चिंता न करें. हमारे लिए एक-एक घंटे महत्वपूर्ण हैं. हमारे प्रधानमंत्री 24 घंटे में से 20 घंटे काम करते हैं और हम पीएम मोदी की सोच को आगे ले जाने का काम करेंगे. बहुत जल्द ही आपको रिजल्ट दिखाई देने लगेगा.'

गिरिराज सिंह ने गौशाला को लेकर पूछे गए एक सवाल पर कहा, 'सवालों के  सवाल न करें! गौशाला भारत का मूल धन रहा है और मेरा मानना है कि किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए इससे बेहतर जरिया और कोई नहीं हो सकता.

सिंह ने अपने संसदीय क्षेत्र बेगूसराय के लिए रोडमैप बनाने के सवाल पर कहा है कि बेगूसराय भी भारत का एक पार्ट है और जो देश के लिए रोडमैप बनाया जा रहा है वही रोडमैप बेगूसराय पर भी लागू होता है.

बता दें कि बिहार की हाईप्रोफाइल सीट बेगूसराय से बीजेपी नेता गिरिराज सिंह ने लोकसभा चुनाव बड़े अंतर से जीता है. इससे पहले वह बिहार के नवादा से सांसद थे. बीजेपी आलाकमान ने हाल ही में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में  गिरिराज सिंह को बेगूसराय से टिकट दिया था. गिरिराज सिंह की पहचान मोदी कैबिनेट के उन मंत्रियों के तौर पर होती रही है जो अपने काम से ज्यादा बयानों के लिए जाने जाते हैं. हिन्‍दुत्‍व से लेकर आतंकवाद और राम मंदिर तक पर अपनी बेबाक राय रख चुके हैं.

गिरिराज सिंह का नाम हमेशा से विवादित बयानों से जुड़ता रहा है. चाहे बात किसी को पाकिस्तान परस्त कहने की हो या फिर पाकिस्तान भेजने की, वहां पटाखे जलाने की हर बार ऐसे बयानों से गिरिराज सिंह का नाम जुड़ता रहा है. गिरिराज सिंह कई बार अपने बयानों की वजह से ही पार्टी की नाराजगी का शिकार हो चुके हैं.

ये भी पढें:

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, हादसा मुक्त बनाएंगे सफर, यात्रियों की सुविधा का रखेंगे ख्याल

क्या अटल-आडवाणी जैसी साबित होगी मोदी-शाह की जोड़ी?

यह भी पढ़ें: सेना होगी हाईटेक और अपने देश में बनेंगे हथियार, राजनाथ सबसे पहले करेंगे ये 6 काम
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज