टीचर ने स्कूल के हैंडपंप से नहीं पीने दिया पानी, बाहर गया बच्चा तो हादसे में हुई मौत
Begusarai News in Hindi

टीचर ने स्कूल के हैंडपंप से नहीं पीने दिया पानी, बाहर गया बच्चा तो हादसे में हुई मौत
बेगूसराय में स्कूली बच्चे की मौत (सांकेतिक चित्र)

मृतक के पिता मोहम्मद मकबूल ने आरोप लगाया है कि शिक्षकों द्वारा इसलिए छात्रों को स्कूल के भीतर चापाकल से पानी नहीं लेने दिया जाता है, क्योंकि वहां पानी बहने से कीचड़ हो जाएगा.

  • Share this:
बेगूसराय. बिहार के बेगूसराय (Begusarai) में शिक्षकों के तालिबानी आदेश का खामियाजा एक छात्र को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी. मृतक छात्र के अभिभावकों का आरोप है कि मध्यान भोजन (Mid Day Meal) के बाद छात्र को स्कूल में अवस्थित चापाकल से पानी नहीं लेने दिया गया, जिसकी वजह से छात्र पानी पीने के लिए गेट के बाहर निकला और अज्ञात वाहन की चपेट में आने से उसकी मौत (Death) हो गई. घटना जिले के गढ़पुरा थाना क्षेत्र के रजौर की है. बताया जा रहा है कि रजौर गांव निवासी मोहम्मद मकबूल का पुत्र मोहम्मद मन्ना शुक्रवार की दोपहर मध्याहन भोजन के बाद पानी पीने के लिए स्कूल से बाहर निकला था और सड़क हादसे में उसकी मौत हो गई.

पिता ने लगाया शिक्षकों पर तालिबानी फरमान का आरोप
मृतक के पिता मोहम्मद मकबूल ने आरोप लगाया है कि शिक्षकों द्वारा इसलिए छात्रों को स्कूल के भीतर चापाकल से पानी नहीं लेने दिया जाता है, क्योंकि चापाकल के नजदीक पानी बहने से कीचड़ हो जाएगा. इसी वजह से छात्र विद्यालय के बाहर पानी पीने को मजबूर रहते हैं. फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और आगे की छानबीन में जुट गई है.

पुलिस बोली- दोषी लोगों पर होगी कार्रवाई



सड़क हादसे में पांचवीं कक्षा के छात्र की मौत के बाद अब प्रशासन ने भी दोषियों पर कार्रवाई के संकेत दिए हैं. मुख्यालय डीएसपी कुंदन कुमार सिंह ने बताया कि अभी तक मृतक के परिजनों के द्वारा आवेदन नहीं दिया गया है, लेकिन पुलिस के संज्ञान में यह बातें आई हैं कि शिक्षकों के द्वारा छात्रों को पानी पीने से रोका जाता है. अगर जांच के क्रम में ऐसे मामले सामने आते हैं, तो आरोपी जो भी होंगे उन पर कार्रवाई की जाएगी.



ये भी पढ़ें- बिहार में अब डोमिसाइल के मुद्दे पर जुदा हुई NDA की राहें, तेजस्वी के साथ BJP

ये भी पढ़ें- गोपालगंज में 118 हड़ताली शिक्षक सस्पेंड, डीएम ने दिया एफआईआर दर्ज करने का आदेश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading