CAA Protest: एक हाथ में तिरंगा और दूसरे हाथ में काला झंडा लेकर प्रदर्शन करने उतरे लोग

प्रदर्शनकारियों के हाथ तिरंगे के साथ ही विरोध स्वरूप काला झंडा भी था. CAA, NRC के साथ ही केंद्र सरकार के खिलाफ भी प्रदर्शनकारियों ने जमकर नारेबाजी की.

प्रदर्शनकारियों के हाथ तिरंगे के साथ ही विरोध स्वरूप काला झंडा भी था. CAA, NRC के साथ ही केंद्र सरकार के खिलाफ भी प्रदर्शनकारियों ने जमकर नारेबाजी की.

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) सहित एनआरसी और एनपीआर के मुद्दे पर भारत बंद के समर्थन में भागलपुर में हजारों की संख्या में लोगों ने सड़क पर उतर कर प्रदर्शन किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2020, 8:44 PM IST
  • Share this:
भागलपुर. नागरिकता संशोधन कानून (CAA) सहित एनआरसी और एनपीआर के मुद्दे पर भारत बंद के समर्थन में भागलपुर में हजारों की संख्या में लोगों ने सड़क पर उतर कर प्रदर्शन किया. इस दौरान प्रदर्शनकारियों के हाथ तिरंगे के साथ ही विरोध स्वरूप काला झंडा भी था. CAA, NRC के साथ ही केंद्र सरकार के खिलाफ भी प्रदर्शनकारियों ने जमकर नारेबाजी की. प्रदर्शनकारियों ने नाथनगर, तातारपुर होते हुए स्टेशन चौक पर पहुंच कर CAA का जमकर विरोध किया.



एहतियात के तौर पर बंद की दुकानें

स्टेशन चौक स्थित भीमराव अंबेडकर गोलंबर के पास संयुक्त रूप से वामपंथी पार्टियों के कार्यकर्ता और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के कार्यकर्ता इस प्रदर्शन के लिए जमा हुए. वहीं, बहुजन स्टूडेंट्स यूनियन के दर्जनों कार्यकर्ता स्टेशन चौक पर ही झंडे बैनर के साथ प्रदर्शन में बैठ गए. दोपहर तक सामान्य रूप से प्रदर्शन किया जा रहा था लेकिन फिर भ्री नाथनगर, तातारपुर और स्टेशन के इलाके में व्यापरियों ने एहतियात के तौर पर दुकानें बंद कर दीं.



नहीं हुई हिंसा
प्रदर्शनके दौरान किसी भी तरह की हिंसा नहीं हुई. यहां तक की सामान्य दिनों की तरह ही सड़क पर गाड़ियों का परिचालन होता रहा. प्रदर्शनकारी मौलाना खुर्शीद अनवर, मौलाना हैदर अंसारी, निजाहत अंसारी ने कहा कि सीएए के विरोध स्वरूप काले झंडे ‌दिखाए जा रहे हैं. प्रदर्शनकारियों ने कहीं भी सड़क जाम कर आवागमन को प्रभावित नही किया और न आमजन को परेशान किया.





ये भी पढ़ेंः  महिला की हत्या के बाद पूर्व DSP फरार, गला घोंटने के बाद नदी में फेंका था शव
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज