Cyclone Yaas: 'यास' तूफान का ब‍िहार में द‍िखने लगा है असर, जानें कब झारखंड और यूपी में देगा दस्‍तक

यास' तूफान के चलते बिहार के भागलपुर,  बांका और अन्य क्षेत्रों में मौसम ने अचानक करवट ली है

यास' तूफान के चलते बिहार के भागलपुर, बांका और अन्य क्षेत्रों में मौसम ने अचानक करवट ली है

Yaas Storm Updates: 'यास' तूफान के चलते बिहार के भागलपुर, बांका और अन्य क्षेत्रों में मौसम ने अचानक करवट ली है जिसके चलते लोगों को गर्मी से राहत मिली है. सुबह से ही तेज बारिश के बाद से मौसम में बदलाव होने से चिलचिलाती धूप और उमस भरी गर्मी से शहर में लोगों को राहत मिलेगी. ऐसे भी संभावित यास तूफान को लेकर भी कई जगहों को अलर्ट पर रखा गया है.

  • Share this:

'यास' तूफान (Cyclone Yaas) कल यानी 26 मई को ओड‍िशा के बालासोर में दस्‍तक देगा. यह तूफान पश्‍च‍िम बंगाल के 20 जिलों को प्रभावित कर सकता है. वहीं मंगलवार यानी आज यास तूफान का असर ब‍िहार के भागलपुर में देखने लगा है. सुबह से ही आसमान में काले बादल के साथ बारिश की शुरुआत हो गई है और लोगों को गर्मी से राहत म‍िली है. यास तूफान को लेकर 27 तारीख को भागलपुर जिले को रेड अलर्ट जोन में रखा गया है, जिसको लेकर जिला प्रशासन की ओर से तैयारी की जा रही है. बिहार के बांका जिला के अन्य क्षेत्रों में अचानक मौसम के करवट लेने से लोगों को राहत मिली है. सुबह से ही तेज बारिश के बाद मौसम में बदलाव होने से लोगों को चिलचिलाती धूप और उमस भरी गर्मी से राहत मिलेगी. ऐसे भी संभावित यास तूफान को लेकर भी बांका जिला को अलर्ट पर रखा गया है.

सीमांचल सहित पूरे बिहार में होगा असर

बंगाल की खाड़ी से उठने वाला यास तूफान का असर बिहार पर भी पड़ेगा तूफान को लेकर बिहार के मौसम विभाग का कहना है कि इस साइक्लोन का सेंटर बंगाल के दीघा के पास है. यह 26 मई को शाम में उड़ीसा और बंगाल के समुद्री तट से गुजरेगा. इसका असर बिहार पर भी पड़ेगा. सीमांचल सहित पूरे बिहार पर इस साइक्लोन का असर पड़ेगा. पटना मौसम विज्ञान के के वैज्ञानिक आशीष कुमार का कहना है कि साउथ ईस्ट बिहार में इसका असर ज्यादा पड़ सकता है. 27-28 मई को इस तूफान का असर साउथ ईस्ट बिहार के साथ-साथ नार्थ ईस्ट बिहार में पड़ेगा. हालांकि मौसम विभाग का कहना है कि अभी किसी जिले में अलर्ट नही कराया गया है, लेकिन बिहार में कुछ जिलों में मूसलाधार बारिश की संभावना बनी हुई. जैसे-जैसे तूफान की जानकारी मिलेगी उसके अनुसार जहां भी भारी बारिश की संभावना होगी अलर्ट कराया जाएगा. 27, 28 और 29 मई तक यास तूफान का असर बिहार में रहने की संभावना है .

झारखंड में कब पहुंचेगा यास तूफान
झारखंड के जमशेदपुर जिला उपायुक्त सूरज कुमार ने चक्रवात तूफान यास के निमित्त जिला प्रशासन की तैयारियों को लेकर वरीय पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. गौरतलब है कि बंगाल की खाड़ी से उठने वाले चक्रवात तूफान यास (YAAS CYCLONE) के 26 मई को पूर्वी सिंहभूम जिला से टकराने की संभावना है. इस दौरान पूर्वी सिंहभूम जिले में तेज बारिश, वज्रपात एवं भीषण आंधी-तूफान हो सकता है, जिसको देखते हुए जिला उपायुक्त ने सभी पदाधिकारियों को अलर्ट मोड पर रहने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि गांव-गांव टीम भेजकर लोगों को जागरूक करें कि आंधी-बारिश के दौरान वे घरों से बाहर नहीं निकलेंगे. आसमानी बिजली गिरने से जानमाल के नुकसान की आशंका रहती है ऐसे में सभी लोग अपने घर में ही सुरक्षित रहेंगे. जिला उपायुक्त के निर्देशानुसार जिला नियंत्रण कक्ष, बिजली विभाग व सभी प्रखंड तथा नगर निकाय में किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटने व तत्काल सूचनाओं के संप्रेषण के लिए कंट्रोल रूम स्थापित करते हुए संपर्क करने के लिए फोन नंबर जारी किए गए हैं. वहीं नगर निकायों व सभी प्रखंड में शेल्टर हाउस चिन्हित कर लिए गए हैं तथा शेल्टर हाउस में आवश्यक मूलभूत सुविधाओं को उपलब्ध करा दिया गया है. वहीं माइकिंग के माध्यम से लोगों को चक्रवात तूफान को लेकर जागरूक करना शुरू कर दिया गया है. लोगों को आंधी-बारिश के दौरान घरों से बाहर नहीं निकलने की अपील की गई है, ताकि जानमाल सुरक्षित रह सकें. जिला प्रशासन सभी जिलावासियों से अपील करता है कि चक्रवात तूफान के दौरान घरों से बाहर नहीं निकलें. आंधी-बारिश के दौरान पेड़ के नीचे नहीं ठहरें, नदी किनारे रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों या शेल्टर हाउस भेजने को लेकर जिला प्रशासन सजग है.

यास तूफान को लेकर जिला और बिजली विभाग के कन्ट्रोल रूम के नंबर जारी

1. जिला नियंत्रण कक्ष- 0657-2440111, 9431301355, 8987510050



2. जमशेदपुर अक्षेस - 7004787828, 7070523814

3. मानगो नगर निगम - 8709006752, 8987586386, 9771500365

4. जुगसलाई नगर परिषद - 7761866441, 7979962972

5. जमशेदपुर प्रखण्ड - 8825391398, 9955459571

6. पटमदा प्रखण्ड - 7258915287, 9608877845

7. पोटका प्रखण्ड - 9798397740, 9110117720

8. गुड़ाबन्दा प्रखण्ड - 9905500900, 9835927621

9. घाटशिला प्रखण्ड - 8271515939, 8789095718

10. धालभूमगढ़ प्रखण्ड- 9304558615, 9955101621

11. मुसाबनी प्रखण्ड- 9954344893, 8084166799

12. बहरागोड़ा प्रखण्ड - 7250996698

13. चाकुलिया प्रखण्ड - 8271828019

14. बोड़ाम प्रखण्ड - 8541895400, 8092153325

15. डुमरिया प्रखण्ड- 7462903310, 9973119320

16. विद्युत प्रमंडल, जमशेदपुर 9431135915

17. विद्युत प्रमंडल, घाटशिला 9431135917

18. विद्युत प्रमंडल मानगो 9431135905

यूपी में 28 और 29 मई को दस्‍तक देगा यास तूफान

मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि यास तूफान का ओरिजिन 22 मई को को अंडमान के पास चुका है और 26-27 मई को कोस्टल बेल्ट ओडिसा वेस्ट बंगाल में अपनी उपस्थिति दर्ज कराएगा. सीनियर साइटिंस्ट डॉक्टर शमीम का कहना है कि आगामी 28-29 मई को इसका असर यूपी में भी देखने को मिलेगा. उन्होंने संभावना जताई कि ईस्टर्न यूपी में मध्यम से भारी बारिश हो सकती है. डॉक्टर शमीम ने कहा कि 29 के बाद वेस्ट यूपी में भी इस तूफान का असर देखने को मिल सकता है. भारतीय कृषि प्रणाली अनुसंधान संस्थान के सीनियर साइंटिस्ट डॉक्टर शमीम का कहना है कि 28-29 मई को वाराणसी, मिर्जा़पुर और अयोध्या इत्यादि जि‍लों में 15 से 20 मिमी की बारिश हो सकती है. जबकि वेस्ट यूपी में इसका असर 29 मई के बाद देखने को मिल सकता है. डॉक्टर शमीम ने बताया कि यास साईक्लोनिक फिनोमिना समुद्र में होता रहता है. तूफान का नाम डबल्यूएमओ देता है. उन्होंने बताया कि यास एक अरेबिक शब्द है जिसका अर्थ निराशा होता है.

यूपी में पहले आ सकता है मानसून

इसे तूफान का असर कहें या कुछ और लेकिन डॉक्टर शमीम ने बताया कि इस बार मानसून भी चार से पांच दिन पहले आने की संभावना है. उन्होंने कहा कि 28 मई को मॉनसून केरल में दस्तक दे सकता है. आमतौर पर एक जून को केरल में मॉनसून आता है. डॉक्टर शमीम का कहना है कि चार पांच दिन पहले मॉनसून का आना कई वर्षों बाद होने जा रहा है. मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो ताऊ ते के बाद अब बंगाल की खाड़ी में विकसित हो रहा चक्रवात तूफान यास उत्तर प्रदेश का मौसम बदलेगा. आने वाले 24 से 48 घंटों में यूपी में तेज़ रफ्तार से हवाएं भी चलेंगी. मई के इस तरह से बदलते मौसम को देखते हुए मौसम वैज्ञानिक कयास लगा रहे हैं कि इस बार मानसून जल्द आएगा. वैसे तो भारत में मानसून पहली जून को केरल के रास्ते आता है मगर इस बार चक्रवातीय तूफान और अन्य सहयोगी मौसमी हालात के मद्देनजर केरल में 28 मई को मानसून आ सकता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज