बिहार में टला बड़ा रेल हादसा टला, टूटे एक्सल बॉक्स के साथ 200 KM तक दौड़ती रही दिल्ली-डिब्रूगढ़ ब्रह्मपुत्र मेल
Bhagalpur News in Hindi

बिहार में टला बड़ा रेल हादसा टला, टूटे एक्सल बॉक्स के साथ 200 KM तक दौड़ती रही दिल्ली-डिब्रूगढ़ ब्रह्मपुत्र मेल
बिहार के भागलपुर में खड़ी ब्रह्मपुत्र मेल

Train Accident: दिल्ली-डिब्रूगढ़ ब्रह्मपुत्र मेल (Brahmputra Mail) के यात्रियों की मानें तो पटना से चलने के बाद ही ट्रेन के कोच से आवाज आ रही थी, लेकिन तेज रफ्तार के कारण पता नहीं लग पा रहा था.

  • Share this:
भागलपुर. बुधवार शाम को एक बड़ा रेल हादसा (Bihar Train Accident) टल गया. दिल्ली से डिब्रूगढ़ जाने वाली ब्रह्मपुत्र मेल (Brahmputra Mail) टूटे एक्सल बॉक्स के साथ पटरी पर दौड़ती रही. इस दौरान कोच में सवार यात्रियों के बीच अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया. ट्रेन के भागलपुर जंक्शन (Bhagalpur Junction) पहुंचने के बाद कोच को बदल कर नया कोच लगाया गया और उसे डिब्रूगढ़ के लिए रवाना किया गया. इस दौरान दो घंटे तक ट्रेन रुकी रही और कोच लगने के बाद उसे रवाना किया गया.

एक्सल फेस बॉक्स ट्रेन के स्लीपर कोच एस-वन की टूटी थी. गाड़ी में सवार लोगों ने पटना से ही एक्सल फेस बॉक्स का आवाज सुनाई पड़ने की बात कही. यात्रियों का कहना है कि तार से बांधकर नट वोल्ट टाइट करने के बाद भी जमालपुर के बाद तेज आवाज कोच में सुनाई दी. चूंकि ट्रेन की रफ्तार अधिक थी और रफ्तार तेज होने के कारण बॉक्स खुल कर गिर गया. इसकी जानकारी भागलपुर में कैरेज एंड वैगन को दी गई.

दो घंटे तक भागलपुर में खड़ी रही ट्रेन
जंक्शन पर ट्रेन के आने के बाद क्षतिग्रस्त एस-वन कोच को हटाकर नया कोच लगाया गया और उसके बाद रात 9.55 बजे डिब्रूगढ़ के लिए ट्रेन रवाना हुई. मुख्य यार्ड मास्टर प्रमोद कुमार समेत कैरेज एंड वैगन के सीनियर सेक्शन इंजीनियर और रेलवे की पूरी टीम इस दौरान लगी रही. यात्रियों ने बताया कि ट्रेन शाम साढ़े छह बजे के करीब जमालपुर जंक्शन पहुंची और जमालपुर में ही गार्ड की ड्यूटी बदली गयी.
ट्रेन में लगाई गई दूसरी बोगी


जमालपुर से गाड़ी खुलने के बाद आवाज आने के बाद गार्ड ए.के. गुप्ता ने लोको पायलट से संपर्क किया, जिसके बाद सूचना भागलपुर स्टेशन और कैरेज एंड वैगन को दी गई. ट्रेन के पहुंचते ही क्षतिग्रस्त कोच को काटा गया. इसके बाद स्लीपर की दूसरी कोच को लगाया गया. इस दौरान यात्रियों में अफरातफरी का माहौल बना रहा. रेलवे के अधिकारी और कर्मचारी समेत जीआरपी और आरपीएफ के अधिकारी जवानों के साथ मुस्तैद रहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज