लाइव टीवी

25 प्रतिशत कमिशन के आधार पर चल रहा था नकली नोटों का कारोबार, अंतरराज्यीय गिरोह के 3 तस्कर गिरफ्तार

News18 Bihar
Updated: October 26, 2019, 8:36 AM IST
25 प्रतिशत कमिशन के आधार पर चल रहा था नकली नोटों का कारोबार, अंतरराज्यीय गिरोह के 3 तस्कर गिरफ्तार
जाली नोट के साथ तीन तस्कर गिरफ्तार

पुलिस को यह गुप्त सूचना मिली थी कि मालदा गिरोह के सदस्य सबौर के बाबुपुर में जाली नोट सप्लाई करने वाले हैं. इसी सूचना पर पुलिस ने जाल बिछाते हुए यह कामयाबी हासिल की.

  • Share this:
भागलपुर. पुलिस ने शुक्रवार को गुप्त सूचना के आधार पर जाली नोट (Fake Note) गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार (Arrest) किया है. सबौर के बाबुपुर से पकड़े गए इन तस्करों के पास से पुलिस ने इनके पास से 90 हजार रूपए के दो-दो हजार रूपये के 45 जाली नोट और चार मोबाइल जब्त किया है. बताया जा रहा के कि इन जाली नोटों की प्रिंटिंग पश्चिम बंगाल के मालदा (Malda in West Bengal) में होती है और फिर कमीशन के आधार पर इन नकली नोटों को भागलपुर (Bhagalpur) सहित अन्य जिलों में खपाया जाता है. मामले में मालदा के मोहम्मद नीलू उर्फ मोहम्मद छोटू सहित सबौर के बाबुपुर के राजदेव कुमार मंडल और कपिलदेव मंडल को गिरफ्तार किया गया है.

गुप्त सूचना पर हुई कार्रवाई
दरअसल पुलिस को यह गुप्त सूचना मिली थी कि मालदा गिरोह के सदस्य सबौर के बाबुपुर में जाली नोट सप्लाई करने वाले हैं. इसी सूचना पर पुलिस ने जाल बिछाते हुए यह कामयाबी हासिल की. बता दें कि इसके लिए सीनियर एसपी आशीष भारती ने सिटी एसपी सुशांत कुमार सरोज और सिटी डीएसपी राजवंश सिंह के नेतृत्व स्पेशल पुलिस टीम गठित की थी. जाली नोटों की खेप पश्चिम बंगाल के मालदा से भागलपुर लाई गई थी.

छानबीन को मालदा जाएगी पुलिस टीम

सीनियर एसपी ने बताया कि जाली नोटों का कारोबार करने वाला मुख्य सरगना मालदा में रहता है और उसकी गिरफ्तारी के लिए टीम का गठन कर भागलपुर पुलिस मालदा जाएगी. गिरफ्तार किए गए गिरोह के सदस्यों ने पुलिस को जाली नोट के कारोबार को लेकर कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं. बकौल एसएसपी पचीस प्रतिशत कमीशन के आधार पर जाली नोट खपाए जाते हैं.

नवगछिया में पकड़े गए थे 3 तस्कर
गौरतलब है कि इससे पहले नवगछिया पुलिस ने बुधवार को गुप्त सूचना के आधार पर दो लाख चार हजार रूपये के नकली नोट के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार किया था. गिरफ्तार लोगों में पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के कालियाचक थाना क्षेत्र के सरवेजपुर निवासी हाजीपुद्दीन, नवगछिया के परबत्ता थाना क्षेत्र के खगड़ा गांव के शैलेश कुमार एवं खरीक थाना क्षेत्र के अठगामा गांव के संजय मंडल शामिल थे.
Loading...

नवगछिया मामले का पश्चिम बंगाल कनेक्शन
बता दें कि नवगछिया पुलिस ने भी गुप्त सूचना मिली थी कि नकली नोटों की एक खेप पश्चिम बंगाल से नवगछिया लाई जा रही है. इसी सूचना के आधार पर नवगछिया एसपी निधी रानी के निर्देश पर एक टीम को सक्रिय किया गया था. नवगछिया रेलवे स्टेशन से दक्षिण ऑटो स्टैंड के पास तीनों अपराधियों ने को पुलिस ने धर दबोच लिया था.

रिपोर्ट-राहुल कुमार ठाकुर

ये भी पढ़ें- 

जानिए कौन हैं बिहार LJP की कमान संभालने वाले प्रिंस राज

AIMIM की जीत पर बोली JDU- बिहार की राजनीति के लिए शुभ नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भागलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 26, 2019, 8:23 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...