लाइव टीवी

बिहार: महिला पुलिसकर्मी ने DGP से कहा- हटिए, नहीं तो टन्न से ठोक देंगे
Bhagalpur News in Hindi

News18 Bihar
Updated: January 22, 2020, 9:34 AM IST
बिहार: महिला पुलिसकर्मी ने DGP से कहा- हटिए, नहीं तो टन्न से ठोक देंगे
बिहार में जब महिला सिपाही ने DGP पर तान दी रायफल. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

DGP गुप्‍तेश्‍वर पांडेय ने अपना परिचय दिए बगैर दो महिला पुलिसकर्मियों से उनका हथियार छीन कर भागने की बात कही थी, जिसपर उन्‍हें करारा जवाब मिला. अब इन दोनों सम्‍मानित किया जाएगा.

  • Share this:
भागलपुर. बिहार पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय (DGP Gupteshwar Pandey) के पर उनके विभाग के ही दो महिला सिपाहियों ने राइफल तान दी थी. अब इन दोनों महिला सिपाहियों को रिवॉर्ड दिया जाएगा. एसएसपी आशीष भारती (SSP Ashish Bharti) ने दोनों महिला सिपाही का पहचान करने का दावा करते हुए उन्‍हें रिवार्ड देने की बात कही है.

दरअसल, डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय सोमवार को सुबह भागलपुर इंटरसिटी ट्रेन से पहुंचे थे. स्टेशन से उतरने के बाद सीनियर एसपी समेत पुलिस अधिकारी रिसीव करते हुए उन्‍हें कचहरी चौक स्थित सर्किट हाउस तक पहुंचाया था. पूर्व में आईजी आवास (जो पुलिस विभाग का अब सर्किट हाउस बन गया है) में फ्रेश होने के बाद डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय मॉर्निंग वॉक के ड्रेस में गेस्ट हाउस से निकलकर पुलिस लाइन की ओर निकल पड़े. जांच के लिए अकेले निकले डीजीपी ने पुलिस लाइन में टहलने के क्रम में हथियार के साथ गुजर रही दो महिला सिपाही से बिना अपना परिचय देते हुए बातचीत शुरू कर दी. दोनों महिला सिपाही गणतंत्र दिवस के परेड दिवस समारोह में भाग लेने के लिए सैंडिश कंपाउंड जा रही थीं.

डीजीपी ने सिपाही के पास मौजूद इंसास पर चर्चा करते हुए दोनों रंगरूटों से पूछा कि हथियार चलाने भी आता है या फिर यूं ही टांग ली है. इस पर अनुराधा नामक सिपाही ने बेबाक अंदाज में बताया कि हाल ही में बांका से फाइरिंग का अभ्यास कर लौटी हैं. 45 राउंड फायरिंग का प्रैक्टिस कर लौटी हैं.

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे.


इस तरह हुई घटना
बातचीत के क्रम में डीजीपी ने दोनों रंगरूटों से कहा कि अगर उनका ये हथियार लेकर भाग जाएंगे तो वे लोग क्‍यों करेंगी? इस सवाल पर महिला सिपाही ने तत्काल पोजिशन लेते हुए डीजीपी पर राइफ़ल तानते हुए चेतावनी भरे लहजे में कहा कि हथियार लेकर भागिए तो सही टन्न से इंसास से ठोक ही देंगे. इसके बाद डीजीपी ने अपना परिचय देते हुए दोनों रंगरूटों को बताया कि वे उनके डीजीपी हैं और उनका नाम गुप्तेश्वर पांडेय है. इसके बाद दोनों महिला सिपाही ने जय हिंद बोलते हुए डीजीपी को सलामी ठोकी.

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने पुलिस लाइन का यह वाकया सर्किट हाउस में डीआईजी सुजीत कुमार, एसएसपी आशीष भारती, नवगछिया एसपी निधि रानी, सिटी एसपी सुशांत कुमार सरोज, डीएसपी (टाउन) राजवंश सिंह, डीएसपी (लॉ एंड आर्डर) निसार अहमद शाह को बताया.
भागलपुर सर्किट हाउस में अधिकारियों से बात करते हुए डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे.


महिला सिपाहियों से डीजीपी काफी खुश
डीजीपी ने बताया कि उन्होंने पुलिस लाइन में जवानों को होने वाली परेशानियों को भी खुद जाना और परेशानी उनके संज्ञान में है. उन्होंने शहर में जाम की समस्या पर कहा कि जल्द ही ट्रैफिक के संसाधन और बल उपलब्ध कराया जाएगा. उन्होंने ट्रैफिक और जाम की समस्या से निबटने के लिए अन्य विभागों के साथ ठोस पहल की आवश्यकता करार दिया. इधर, दोनों महिला सिपाहियों की ओर से डीजीपी पर राइफ़ल ताने जाने का मामला भागलपुर में चर्चा का विषय बना रहा. पुलिस महकमे में जवानों औऱ अधिकारियों के बीच दोनो जवानों को लेकर कौतूहल बनी रही. एसएसपी आशीष भारती ने उत्साहित दोनों महिला जवानों को रिवार्ड देने की घोषणा की है.

ये भी पढ़ें


बिहार: आज से शुक्रवार तक बंद रहेंगी दवा की दुकानें, जानें कहां मिलेंगी दवाएं




बिहार: दवा दुकानदारों की हड़ताल के विरोध में हैं इस कॉलेज के छात्र, बताया जनविरोधी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भागलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 22, 2020, 9:22 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर