अपना शहर चुनें

States

गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्राया भागलपुर, 12 घंटे के दौरान दो लोगों की हत्या

भागलपुर में हुई हत्या की वारदात के बाद रोते-बिलखते परिजन
भागलपुर में हुई हत्या की वारदात के बाद रोते-बिलखते परिजन

बारह घंटे के भीतर ताबड़तोड़ हुई तीन आपराधिक वारदातों ने पुलिस की चुस्त-दुरुस्त के दावों के साथ पुलिस का अपराधियों में खत्म हो चुके इकबाल को उजागर कर दिया है.

  • Share this:
बिहार के भागलपुर में अपराधियों के सिर से पुलिस का खौफ लगातार कम होता जा रहा है. पुलिस के खत्म होते इकबाल के बीच महज बारह घंटे के भीतर अलग-अलग तीन घटनाओं में दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई वहीं जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल के गार्ड को बदमाशों ने गोली मारकर घायल कर दिया.

रंगदारी के लिए हत्या

पहली घटना में तिलकामांझी थाना क्षेत्र के सरकारी बस स्टैंड के पास की है जहां देर रात पीएचईडी विभाग के चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी गौतम यादव की बदमाशों ने पांच लाख की रंगदारी नहीं देने पर गोली मारकर हत्या कर दी. कहा जा रहा है कि गौतम ने बरारी क्षेत्र के संतनगर में नया मकान बनाया था जिसके एवज में बरारी का बदमाश मुकुंद यादव उसेसे पांच लाख रूपये की रंगदारी मांग रहा था. गौतम यादव पुलिस को बिना कोई सूचना दिए आपस में ही रंगदारी के इस मामले को सुलझा रहा था और समझौते के आधार पर पैसे लेने के लिए मुकुंद यादव ने गौतम यादव को सरकारी बस स्टैंड बुलाया जहां उसे गोली मार दी गई.



बाइक पार्किंग को लेकर मारी गोली
दूसरी घटना जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल परिसर में देर रात उस समय घटी जब इमरजेंसी के गेट पर तैनात सुरक्षाकर्मी इंद्रजीत सिंह बाइक पर सवार बदमाशों को स्टैंड में बाइक लगाने को कहा. सुरक्षाकर्मी के गेट के सामने से बाइक हटाने के लिए कहे जाने पर आक्रोशित होकर बाइक सवार बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी जिनसे वे घायल हो गए. गार्ड को गोली मारे जाने के मामले में बरारी थाना पुलिस ने दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है.अस्पताल परिसर में हुए इस वारदात से गुस्साए डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मी सुरक्षा की मांग को लेकर हड़ताल पर चले गए हैं.

हत्या की दोहरी वारदात के बाद अस्पताल में जमा भीड़


छेड़खानी का विरोध करने पर हत्या

तीसरी घटना सोमवार की सुबह बबरगंज के मोहदीनगर में घटी जहां दो दिन पहले छेड़खानी का विरोध किए जाने से गुस्साए बदमाशों ने दिनेश तांती की गोली मारकर हत्या कर दी. गोली लगने से घायल दिनेश तांती को जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित किया. घटना के संदर्भ में बताया जाता है कि दो दिन पहले एक शादी समारोह के भोज के दौरान मोहल्ले के चार मनचलों ने उनकी भतीजी के साथ छेड़खानी का प्रयास किया था जिसका दिनेश ने विरोध किया इसी के आक्रोश में मुहल्ले के ही सुधीर,पंकज चौधरी समेत अन्य दो युवकों ने सुबह में उन्हें गोली मार दी.

बहरहाल बारह घंटे के भीतर ताबड़तोड़ हुई तीन आपराधिक वारदातों ने पुलिस की चुस्त-दुरुस्त के दावों के साथ पुलिस का अपराधियों में खत्म हो चुके इकबाल को उजागर कर दिया है. बहरहाल अलग-अलग थाना क्षेत्रों में हुई तीनों घटनाओं की तफ्तीश में पुलिस जुट गई है.

रिपोर्ट- राहुल ठाकुर

ये भी पढ़ें- बिहार में भीषण बाढ़ का कहर, 12 जिले प्रभावित

ये भी पढ़ें- बाढ़ ने इस जिले में मचाई सबसे ज्यादा तबाही, अबतक 11 की मौत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज