अपना शहर चुनें

States

भागलपुर में लेडी डॉक्टर ने की खुदकुशी, बेडरूम में लटकती मिली लाश

भागलपुर में हुई घटना की जानकारी देते डीएसपी
भागलपुर में हुई घटना की जानकारी देते डीएसपी

भागलपुर (Bhagalpur) में हुई इस घटना की सूचना मिलने पर सदर डीएसपी राजवंश सिंह समेत तिलकामांझी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गयी. डॉक्टर (Doctor) के पिछले कुछ माह से डिप्रेशन (Depression) में होने की बात कही जा रही है.

  • Share this:
भागलपुर. शहर के लालबाग कॉलोनी में पूर्णिया (Purnia) के एक निजी अस्पताल में पदस्थापित फिजियोथेरेपिस्ट (Physiotherapist) डाक्टर प्रियंका प्रियदर्शिनी ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. वो अपने पिता के साथ तिलकामांझी थाना क्षेत्र के लालबाग कॉलोनी में किराये के मकान में रहती थीं. महिला चिकित्सक पूर्णिया के मैक्स सेवन हॉस्पिटल में फिजियोथेरेपिस्ट के पद पर कार्यरत थीं और कुछ दिनों से पूर्णिया कार्य में नहीं जा रही थीं.

पिता हैं बैंक मैनेजर

मृतका के पिता मुंगेर के कोड़ा बाजार दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक शाखा के प्रबंधक हैं. देर सुबह तक कमरे से बाहर बेटी के नहीं निकलने पर कमरे में डॉक्टर बेटी को पंखे से लटका पाया जिसके बाद घरवालों ने शव को नीचे उतारा और फिर पुलिस को सूचना दी. सूचना मिलने पर सदर डीएसपी राजवंश सिंह समेत तिलकामांझी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गयी. डॉक्टर के पिछले कुछ माह से डिप्रेशन में होने की बात कही जा रही है.



डिप्रेशन का शिकार थीं लेडी डॉक्टर
इस मामले को लेकर मौके पर पहुंचे सदर डीएसपी राजवंश सिंह ने परिवार के सदस्यों के साथ-साथ मकान मालिक और अन्य लोगों से पूछताछ की और मामले की जांच में जुटे. सदर डीएसपी ने बताया कि महिला चिकित्सक अविवाहित थीं और अपने परिवार के साथ ही छह सालों से लालबाग कॉलोनी में रह रही थी. वो पिछले कई माह से डिप्रेशन में थी. उन्होंने बताया कि पुलिस कई बिंदुओं पर मामले की तफ्तीश कर रही है. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया है.

ये भी पढ़ें- लॉकडाउन में पुलिसिया चौकसी को ठेंगा दिखाते हुए दो युवकों को सरेआम मारी गोली

ये भी पढ़ें- लॉकडाउन में हुई शादी, दूल्हा-दुल्हन को गिफ्ट में मिले मास्क और सेनेटाइजर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज