Assembly Banner 2021

लीला चन्द्र साहा बने तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति

लीला चन्द्र साहा

लीला चन्द्र साहा

कुलपति के रूप में ज्वाइन करने के बाद लीला चन्द्र साहा ने छात्रों की समस्याओं के साथ सत्र नियमितिकरण और सेवानिवृत होने वाले कर्मचारियों को तत्क्षण सेवांत लाभ देने की बात कही.

  • Share this:
लीला चन्द्र साहा को तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति नियुक्त किया गया है. वे इससे पहले पीजी बॉटनी डिपार्टमेंट के हेड प्रोफेसर थे. पूर्व कुलपति डॉ. नलिनीकांत झा के निधन के बाद से पिछले 23 दिनों से विश्वविद्यालय में कुलपति का पद रिक्त पड़ा हुआ था.

बुधवार शाम को राजभवन से अधिसूचना जारी होने के बाद लीला चन्द्र झा ने प्रभारी कुलपति का पद विश्वविद्यालय प्रशासनिक भवन में ज्वाइन किया, जहां विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार डा.अरूण कुमार सिंह, प्रॉक्टर विलक्षण रविदास, डीएसडब्लू डा. योगेन्द्र सहित अन्य कर्मचारियों ने बुके देकर उनका स्वागत किया.

कुलपति के रूप में ज्वाइन करने के बाद लीला चन्द्र साहा ने छात्रों की समस्याओं के साथ सत्र नियमितिकरण और सेवानिवृत होने वाले कर्मचारियों को तत्क्षण सेवांत लाभ देने सहित विश्वविद्यालय में शैक्षणिक माहौल को सुधारने को अपनी प्राथमिकता करार दिया. उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय की पुरानी गरिमा को फिर से बहाल करने की दिशा में कार्य किया जाएगा. साथ ही शिक्षकों की कमी को दूर करने के लिए अतिथि प्रोफेसरों की नियुक्ति की जाएगी.



ये भी पढ़ें- उपेंद्र कुशवाहा ने नीतीश कुमार से पूछा- सुशासन को रालोसपा के कितने साथियों की बलि चाहिए ?
बता दें कि प्रो. लीला चन्द्र साहा इससे पहले आरा के वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति रह चुके हैं.

ये भी पढ़ें- जेडीयू MLA पर लगा 50 लाख की रंगदारी मांगने का आरोप, दहशत में थाने पहुंचा कंपनी का एमडी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज