अपना शहर चुनें

States

Covid-19: 65 साल के मरीज ने जीती जिंदगी की जंग, कोरोना को पराजित कर लौटे घर

भागलपुर के कोरोना मरीज को डिस्चार्ज करते अस्पताल के डॉक्टर
भागलपुर के कोरोना मरीज को डिस्चार्ज करते अस्पताल के डॉक्टर

Fight Against COVID-19: भागलपुर जिला के व्यवसायी विजय केजरीवाल इंग्लैंड से कोलकाता के रास्ते 18 मार्च को वापस नवगछिया लौटे थे.

  • Share this:
भागलपुर. भागलपुर के जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल से कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित सातवें मरीज विजय केजरीवाल ने कोरोना पर जीत हासिल कर लिया है. करीबन एक सप्ताह तक जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल में आईशोलेशन (Isolation) के बाद उन्होंने जिंदगी की जंग को जीता. नवगछिया के प्रमुख कारोबारी 65 साल के विजय केजरीवाल के लगातार दूसरी बार जांच में कोरोना निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया.

इंग्लैण्ड से लौटे थे विजय

इससे पहले कोरोना के छह पॉजिटिव मरीज स्वस्थ होकर अस्पताल से डिसचार्ज हो चुके हैं. इस तरह JLNMCH से कोरोना पॉजिटिव सात मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए हैं. डिस्चार्ज के समय अस्पताल के स्वस्थ्यकर्मियों ने तालियां बजाकर उनका हौसला बढ़ाया और फिर होम क्‍वारेंटाइन के लिए घर भेज दिया. विजय केजरीवाल इंग्लैंड से कोलकाता के रास्ते 18 मार्च को नवगछिया लौटे थे. जांच के बाद उनका रिपोर्ट पॉजिटिव आया था और उसके बाद मायागंज अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में उन्हें भर्ती कराया गया था.



अस्पताल के कर्मचारियों को कहा थैंक्स
डिस्चार्ज होने के समय विजय केजरीवाल ने अस्पताल के डॉक्टर और स्वाथ्यकर्मियों के प्रति आभार व्यक्त किया और अस्पताल की व्यवस्था पर संतोष व्यक्त किया. उन्होंने कहा कि अस्पताल के कर्मचारियों ने समय पर दवा, खाना से लेकर अन्य मनोरंजन का काफी ख्याल रखा. उन्होंने कोरोना पर विजय के लिए सोशल डिस्टेनसिंग का पालन करने और मजबूती से मुकाबला करने की लोगों से अपील की.

रविवार को नहीं आया है कोई नया केस

शनिवार के बाद से बिहार में एक भी कोरोना का पॉजिटिव केस सामने नहीं आया है. बिहार में रविवार रात तक कोविड-19 (COVID-19) के कुल 64 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. एक संक्रमित शख्स की मौत की भी सूचना मिली है. इनमें से 37 सक्रिय मामले हैं. कोरोना वायरस के संक्रमण से स्वस्थ हो चुके 26 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. बिहार के प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) ने रविवार को यह जानकारी दी है.

सबसे अधिक मरीज सीवान से

मालूम हो कि बिहार में इस बीमारी की चपेट में आने वाले लोगों की सबसे ज्यादा संख्या सिवान में है. राज्य में जहां कुल 64 मरीज कोरोना के हैं जिनमें से अकेले सिवान के 29 हैं. खास बात यह है कि 29 में से 24 लोग एक ही परिवार के हैं. इस बीमारी को फैलने से रोकने के लिए कई जिलों की सीमा सील भी कर दी गई है.

गोपालगंज को भी राहत

गोपालगंज के लिए राहत भरी खबर है. यहां कोरोना पॉजिटिव के दो मरीज अब बिल्कुल ठीक हो गए हैं. और उनकी कई जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद अस्पताल से घर जाने के लिए छुट्टी दे दी गयी है. यहां सदर अस्पताल में दो कोरोना पॉजिटिव मरीजो को भर्ती कराया गया था. जहा इन्हें अलग आइसोलेशन वार्ड में रखकर इनका इलाज किया जा रहा था लेकिन इनकी दोबारा जांच रिपोर्ट जब नेगेटिव आई तो इन्हें सदर अस्पताल से घर जाने की छुट्टी दे दी गई.

रिपोर्ट- मुकेश कुमार/राहुल ठाकुर

ये भी पढ़ें- Lockdown में युवक को पुलिस ने ऐसे पीटा कि आंखों की रोशनी चली गई

ये भी पढ़ें- Lockdown: पिता रामविलास पासवान की शेविंग करते दिखे चिराग, वीडियो वायरल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज