अपना शहर चुनें

States

भूख से तड़पते बच्चों के साथ राहत कैम्प पहुंचा शिक्षक पिता तो छलक पड़े आंसू ! CO ने खिलाया भरपेट भोजन

भागलपुर के राहत कैम्प में पहुंचने पर भूखे शिक्षक परिवार को भोजन और राशन मिला.
भागलपुर के राहत कैम्प में पहुंचने पर भूखे शिक्षक परिवार को भोजन और राशन मिला.

मजबूरी क्या न कराए. भीखनपुर वार्ड संख्या 34 में रहने वाले प्रदीप कुमार राय को भी राशन और भोजन को लेकर बच्चों के साथ राहत कैम्प पहुंचाना पड़ा. सीओ से गुहार लगायी जिसके बाद...

  • Share this:
भागलपुर. भीखनपुर के रहने वाला तीन बच्चों का पिता प्रदीप कुमार राय होम ट्यूशन पढ़ाकर अपना और अपने बच्चों का भरण पोषण करते थे. पत्नी की मृत्यु के बाद प्रदीप ही बच्चों के लिए पिता और मां दोनों की भूमिका में हैं. होम ट्यूशन से जो आमदनी होती थी, उससे उनका खर्चा और बच्चों की पढ़ाई के साथ अन्य जरूरतों की पूर्ति होती थी. लेकिन लॉकडाउन (Lockdown) के कारण ट्यूशन छूट जाने से पैसों की किल्लत हो गई और भुखमरी के हालात पैदा हो गये.

दोनों बेटियों के साथ पहुंचा राहत शिविर
मजबूरी क्या न कराए. भीखनपुर वार्ड संख्या 34 में रहने वाले प्रदीप कुमार राय को भी  राशन और भोजन को लेकर बच्चों के साथ राहत कैम्प पहुंचाना पड़ा. सीओ से गुहार लगायी जिसके बाद पहले सब को भोजन कराया गया और फिर सूखा राशन और सीओ के द्वारा अपनी ओर से पांच सौ रूपये की सहायता राशि प्रदान की गयी.

अंचलाधिकारी ने मदद का दिलाया भरोसा
शिविर में मौजूद जगदीशपुर सीओ से प्रदीप और उसकी बेटियों ने कई समस्या सामने रखा. बेटियों ने कहा कि लाइन के लिए कई बार आवेदन बिजली विभाग को दिया गया, लेकिन आवेदन के आलोक में अब तक बिजली का कनेक्शन नहीं लग पाया है. जिस पर सीओ ने अपना मोबाइल नम्बर देते हुए आश्वासन दिया कि कोरोना संकट के बाद बिजली का कनेक्शन करवा देंगे.



साथ ही राशन कार्ड के साथ अन्य सरकारी योजनाओं का भी लाभ दिलाने की दिशा में सकारात्मक प्रयास किया जायेगा. उन्होंने शिक्षक प्रदीप से सुबह शाम शिविर में आकर खाना खा लेने और बच्चों के लिए बर्तन में खाना लेकर जाने को कहा.

क्या कहा शिक्षक ने
शिक्षक प्रदीप कुमार राय ने आंखों से आंसू छलकाते हुए सीओ के प्रति कृतज्ञता जाहिर की और कहा कि जिंदगी में ऐसे भी दिन देखने पड़ेंगे, सोचा नहीं था. उन्होंने लाचारी में बेबस होकर राहत शिविर पहुंचने की बात कही.

ये भी पढ़ें


भारत में कोरोना फैलाने की साजिश रच रहा 'जालिम', SSB ने प. चंपारण के डीएम-एसपी को भेजा अलर्ट




Lockdown: मजदूरों को 100 दिनों के रोजगार की गारंटी देगी बिहार सरकार, कार्य के हिसाब से मिलेगी मजदूरी

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज