Assembly Banner 2021

तेजस्वी ने सवर्ण आरक्षण का फिर से किया विरोध, आबादी के अनुपात में रिजर्वेशन की उठाई मांग

तेजस्वी यादव

तेजस्वी यादव

तेजस्वी यादव ने आगे कहा कि हमारे अनुसार गरीब वही है जो सड़क पर रहता है. जिसके पास घर के नाम पर सिर्फ झोपड़ी हो.

  • Share this:
लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने सवर्ण आरक्षण को लेकर एक बार फिर से केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है. भागलपुर में शुक्रवार को पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने कोर्ट के आदेश और आयोग की रिपोर्ट आए बिना ही आर्थिक रूप से कमोजर सवर्ण जातियों को 10 फीसदी आरण दिया है. ऐसे में यह आरक्षण संवैधानिक नहीं है. उनकी माने तो यह 10 फीसदी आरक्षण गरीब सवर्णों को नहीं बल्कि अमीरों को दिया गया है. क्योंकि जिसके पास पांच एकड़ जमीन है वह गरीब नहीं हो सकता.

तेजस्वी यादव ने आगे कहा कि हमारे अनुसार गरीब वही है जो सड़क पर रहता है. जिसके पास घर के नाम पर सिर्फ झोपड़ी हो. उन्होंने केंद्र पर तंज कसते हुए कहा कि 8 लाख रुपए से कम आए वाले कैसे गरीब हो सकते हैं. तेजस्वी ने कहा कि यदि 8 लाख रुपए को महीने के हिसाब से सैलरी में देखा जाए तो 66 हजार छह सौ और 66 रुपए होते हैं. ऐसे में भला हर महीने इतनी मोटी रकम कमाने वाला कैसे गरीब हो सकता है.

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम ने कहा कि हम उसको गरीब मानेंगे जो बेरोजगार है, जिसको आर्थिक मदद की जरुरत है. ऐसे में महीने में 66 हजार छह सौ और 66 रुपए कमाने वाला गरीब नहीं हो सकता. अंत में तेजस्वी ने कहा कि हमारे संविधान में आर्थिक आधार पर आरक्षण देने का प्रवधान ही नहीं है. ऐसे में सवर्ण आरक्षण संविधान के खिलाफ है. उनकी माने तो जब आरक्षण की 50 फीसदी सीमा टूट ही गई है तो अब जाती की जनसंख्या के आधार पर आरक्षण देना चाहिए.



रिपोर्ट- आशीष
ये भी पढ़ें- 

इस रिक्शेवाले के पांच खतों का जवाब दे चुके हैं PM मोदी, जानिए क्या है माजरा


Phd का एग्जाम देने आए बाहुबली नेता ने परीक्षा केंद्र पर ली Selfie, सोशल मीडिया पर वायरल


परीक्षा केंद्र पर पांच मिनट देर से पहुंचे परीक्षार्थीं तो बनाया गया मुर्गा, VIDEO वायरल

'विदेशी ताकतों के हाथ में खेल रहे हैं राहुल गांधी, झूठ बोलने की है उनकी आदत'

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज