Assembly Banner 2021

तेजस्वी का CM नीतीश पर हमला, 'चाचा नहीं चाहते थे कि मैं उनका पड़ोसी बनकर रहूं'

नीतीश कुमार के पास खुद सात बंगले हैं. वहीं मुख्यमंत्री आवास को भी बहुत सारे बंगले को मिलाकर बनाया गया है.

  • Share this:
बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सुप्रीम कोर्ट के बंगला खाली करने वाले आदेश का पालन करने की बात कही है. भागलपुर के सर्किट हाउस में शुक्रवार को प्रेस वार्ता के दौरान तेजस्वी यादव ने कहा कि वे सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं. वे जल्द ही बंगला खाली कर देंगे. वहीं, इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा. तेजस्वी ने कहा कि चाचा ने जो परम्परा शुरू की है वह बिल्कुल गलत है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के पास खुद सात बंगले हैं. वहीं मुख्यमंत्री आवास को भी बहुत सारे बंगले को मिलाकर बनाया गया है. ऐसे में उन्हें भी जवाब देना चाहिए.

आगे तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश जी को जब इतना से मन नहीं भरा तो वे दिल्ली में भी सचिव के नाम पर बंगला अलॉट करवा लिए है. जबकि उसमें वे खुद रहते हैं. उन्होंने कहा कि  हमें संविधान के तहत बंगला अलॉट किया गया था. लेकिन नीतीश कुमार को पसंद नहीं था कि तेजस्वी उनके पड़ोसी बनकर रहे. ऐसे में उन्होंने मेरा बंगला वहां से हटवा दिया.

बता दें कि बंगला विवाद मामले पर शुक्रवार को तेजस्वी को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा था. कोर्ट ने तेजस्वी यादव की याचिका को खारिज करते हुए उनपर 50 हजार रुपए का जुर्माना भी लगा दिया है. मालूम हो कि पटना हाईकोर्ट से याचिका खारिज होने के बाद तेजस्वी यादव ने हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी.



रिपोर्ट- आशीष
ये भी पढ़ें-

इस रिक्शेवाले के पांच खतों का जवाब दे चुके हैं PM मोदी, जानिए क्या है माजरा


Phd का एग्जाम देने आए बाहुबली नेता ने परीक्षा केंद्र पर ली Selfie, सोशल मीडिया पर वायरल


परीक्षा केंद्र पर पांच मिनट देर से पहुंचे परीक्षार्थीं तो बनाया गया मुर्गा, VIDEO वायरल

'विदेशी ताकतों के हाथ में खेल रहे हैं राहुल गांधी, झूठ बोलने की है उनकी आदत'

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज