अपना शहर चुनें

States

भागलपुर: चंद घंटों के दौरान तीन बुजुर्गों की मौत से हड़कंप, स्वास्थ्य विभाग से क्लीनचिट के बाद उठा शव

भागलपुर में तीन बुजुर्गों की मौत के बाद जमा भीड़
भागलपुर में तीन बुजुर्गों की मौत के बाद जमा भीड़

भागलपुर (Bhagalpur) के तीनों मृतकों की पहचान 80 साल की मृदुला देवी, 90 साल का भूदेव यादव और साठ साल की सावित्री देवी के रूप में हुई है.

  • Share this:
भागलपुर. भागलपुर (Bhagalpur) के रामनगर वारसलीगंज मोहल्ले में तीन से चार घंटे के भीतर अलग-अलग बीमारियों से तीन लोगों की मौत (Death) हो गई जिससे पूरे इलाके में हड़कंप मच गया. चंद घण्टे में ही तीन लोगों की मौत से लोगों में कई तरह की चर्चाएं होने लगी हैं. अचानक तीन लोगों की मौत की जानकारी के बाद पार्षद प्रतिनिधि शशि मोदी ने नगर निगम प्रशासन समेत जिला प्रशासन के अधिकारियों को सूचना दी. प्रशासन को सूचना दिये जाने के बाद मौके पर बबरगंज थाना पुलिस समेत मेडिकल की टीम (Medical Team) मौके पर पहुंची और मामले की जानकारी ली, जिसके बाद मौके पर मौजूद चिकित्सक डा. कल्पना कुमारी ने तीनों के अलग-अलग बीमारी से मौत होने की बात कही.

कोरोना से इंकार

चिकित्सकों ने सिम्पटम के आधार पर बताया कि तीनों में कोरोना के किसी तरह के लक्षण नहीं थे. दो का पूर्व से चिकित्सक से इलाज चल रहा था और इस आधार पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कोरोना को लेकर तीनों के मौत होने से इंकार किया. मृतकों में 80 साल की मृदुला देवी, 90 साल का भूदेव यादव और साठ साल की सावित्री देवी हैं.



क्लीन चिट मिलने के बाद निकाली गई शव यात्रा
स्वास्थ्य विभाग की टीम से क्लीन चिट मिलने के बाद मुहल्ले से कोरोनाबन्दी के तहत अलग-अलग तीन शव यात्रा निकाली गई और बरारी श्मसान घाट में तीनों शवों का अंतिम संस्कार किया गया. चंद घंटे के भीतर अलग-अलग परिवार के तीन बुजुर्गों की मौत से लोगों में भय का माहौल है. मालूम हो कि बिहार में कोरोना तेजी से पांव पसार रहा है. इस बीमारी से अभी तकर 126 लोग ग्रसित हो चुके हैं जबकि दो लोगों की मौत हो चुकी है.

ये भी पढ़ें- PDS डीलरों पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, 144 पर FIR, 36 का लाइसेंस रद्द

ये भी पढ़ें- सिपाही से उठक-बैठक कराने वाले अफसर पर गाज गिरनी तय, जांच के आदेश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज