राष्ट्रपति कोविंद और PM मोदी चखेंगे आमों के शहंशाह जर्दालू का स्वाद, कोरोना के कारण भेजने में हुई देर

भागलपुर के मशहूर जर्दालू आम  का स्वाद चखेंगे पीएम नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद.

भागलपुर के मशहूर जर्दालू आम का स्वाद चखेंगे पीएम नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद.

Jardalu Mango of Bhagalpur: भागलपुर जिले का मशहूर जर्दालू आम आज प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति समेत विशिष्ट व्यक्तियों के लिए आज रवाना किया जाएगा. जर्दालू आम के 2000 पैकेट आज विक्रमशिला एक्सप्रेस से दिल्ली भेजे जाएंगे.

  • Share this:

भागलपुर. बिहार के पूर्वी इलाके भागलपुर जिले का जर्दालू आम अपने लाजवाब स्वाद की वजह से हमेशा से ही लोगों की पहली पसंद रहा है. या यूं कहें कि पेड़ों में आम आने जब से शुरू होते हैं लोगों का इंतजार बढ़ जाता है कि जर्दालू आम आएगा और उसका स्वाद लिया जाएगा. भागलपुर के इस जर्दालू आम की मिठास के गवाह देश के कोने-कोने में फैले हुए लोग हैं. इस आम की खूबी का अंदाजा इसी बात से लगा सकते हैं कि खुद राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और देश के मुख्य न्यायाधीश के अलावा कई मंत्री और अन्य विशिष्ट लोग भी जर्दालू आम के मिठास का लुत्फ उठाते रहे हैं. कई वर्षों से यह जर्दालू आम प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति समेत अन्य विशिष्ट व्यक्तियों को भेजा जाता रहा है, लेकिन इस साल कोरोना की वजह से इसमें देरी हो गई.

दरअसल इस बार जर्दालू आम भेजे जाने की उम्मीद थोड़ी सी कम इसलिए हो गई थी कि कोरोना काल में जिला प्रशासन ने इसे भेजने की जहमत पहले नहीं उठाई. लेकिन जैसे ही कोरोना का प्रभाव कम होने लगा तो तैयारी शुरू हो गई और अब जर्दालू आमों की खेप राष्ट्रपति भवन और सात लोक कल्याण मार्ग तक भेजे जाने के लिए तैयार है. भागलपुर से विक्रमशिला एक्सप्रेस से जर्दालू आमों के 2000 पैकेट को दिल्ली के लिए रवाना किया जाएगा. दिल्ली में यह आम पहले बिहार भवन पहुंचेगा जहां से राष्ट्रपति भवन और पीएम मोदी को भेजा जाएगा.

मुख्यमंत्री की तरफ से भेजे जाते हैं आम

आपको बता दें कि ये बिहार के मुख्यमंत्री की तरफ से हर साल भेजने की परंपरा रही है. इस बार 14वीं बार सुल्तानगंज के महेशी से जर्दालू आम भेजा जा रहा है. रविवार को अधिकारियों की देखरेख में आम की पैकिंग की गई और 2000 पैकेट तैयार किए गए. सुल्तानगंज से 2000 पैकेट जहां दिल्ली के लिए पैक किए गए, वहीं 500 पैकेट आम पटना भी भेजे जाएंगे. बिहार के मुख्यमंत्री की तरफ से 2007 से लगातार 'अंग' की ये सौगात भेजी जा रही है. एक पैकेट में 20 आम यानी करीब पांच किलो आम हैं. इसके साथ जर्दालू आम की खासियत को भी लिखित में बताया गया है, ताकि लोग इसके बारे में जान सकें. आम के पैकेट पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सप्रेम भेंट लिखी हुई है.
क्या है जर्दालु आम की खासियतें

- मीठे रस भरे जर्दालू आम का स्वाद लाजवाब होता है.

-इसकी गुठली छोटी होती है यानी आम खाने का पूरा स्वाद मिलता है.



-स्वादिष्ट होने के साथ ये सेहत के लिए भी खूब फायदेमंद है.

-दूसरे आमों की तरह इसमें खट्टापन बिल्कुल नहीं होता है.

-इस आम में ज्यादा फाइबर पाया जाता है, जो पेट के लिए बहुत लाभकारी है.

-ये सुपाच्य होता है, इसमें शुगर की मात्रा भी कम होती है. कृषि वैज्ञानिक बताते हैं कि डायबिटीज और ब्लडप्रेशर के मरीज भी इसे खा सकते हैं.

-बड़ा-बड़ा फल होता है जिसे खाने में काफी स्वाद मिलता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज