भोजपुर में चीता और हाइवे पेट्रोलिंग टीम करेगी क्राइम कंट्रोल, SP ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

भोजपुर जिले के एसपी राकुश कुमार दुबे ने बुधवार को हरी झंडी दिखाकर चीता टीम और हाईवे पेट्रोलिंग टीम को रवाना किया

भोजपुर के एसपी राकेश कुमार दुबे ने बताया कि चीता टीम और हाइवे पेट्रोलिंग टीम यह सुनिश्चित करेगी कि लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान लोग कोरोना गाइडलाइन (Corona Guideline) का सही तरीके से फॉलो करें. इसके अलावा, अपराधिक गतिविधियों एवं संदिग्ध लोगों का सही रूप से जांच और तलाशी करेंगी

  • Share this:
    (अभिनय प्रकाश)

    आरा. अपराध व अपराधियों पर लगाम लगाने के मकसद से बिहार (Bihar) के भोजपुर जिले के आरा (Arrah) में चीता टीम (Cheetah Team) और हाइवे पेट्रोलिंग टीम (Highway Patroling Team) का गठन किया गया है. पुलिस अधीक्षक (एसपी) राकेश कुमार दुबे ने बुधवार को दो टीमों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. यह टीम जिला स्तर पर काम करेंगी और अपराध एवं अपराधियों पर नकेल कसने में अहम भूमिका निभाएगी. इस टीम का कंट्रोल एसपी कार्यालय से होगा. साथ ही यह टीम पूरे जिले में किसी भी थाना क्षेत्र से सूचना मिलने पर छापेमारी कर सकती है.

    एसपी राकेश कुमार दुबे ने बताया कि चीता टीम और हाइवे पेट्रोलिंग टीम सबसे पहले यह सुनिश्चित करेगी कि लॉकडाउन के दौरान लोग कोरोना गाइडलाइन का सही तरीके से फॉलो करें. इसके अलावा, अपराधिक गतिविधियों एवं संदिग्ध लोगों का सही रूप से जांच और तलाशी करेंगी. उन्होंने कहा कि शहर में बहुत से ऐसे जगह हैं जहां लोगों का जमावड़ा लगता है, इसकी शिकायत बहुत ज्यादा आती है. उसको देखते हुए जिला स्तर पर इस टीम का गठन किया गया है. जिले में कहीं से और किसी भी प्रकार की सूचना पर यह टीम वहां जाएगी और करवाई करेगी.

    उन्होंने बताया कि बाइक टीम में 20 कॉन्स्टेबल और दो अफसरों को शामिल किया गया है. जबकि हाइवे पेट्रोलिंग के लिए अलग से फोर्स रखी गयी है जिसमें दो अर्टिगा वाहन दिन और रात दोनों समय पेट्रोलिंग करेंगे. दुबे ने कहा कि इस टीम का नाम चीता इसलिए रखा गया है ताकि टीम के जवानों में स्मूथली और जल्दी काम करने की इच्छा होगी. इसके साथ ही रिस्पांस टाइम बेहतर हो पाएगा. उन्होंने कहा कि अक्सर थाने में अधिक काम होते हैं जिसके कारण किसी भी सूचना पर ठीक से रिस्पांस नहीं मिल पाता है. इस टीम से सही रिस्पांस मिल पाएगा और तत्वरित करवाई हो सकेगी. इसके साथ ही कोई सूचना मिलने पर वो वहां पहुंचकर त्वरित कार्रवाई करेगी. इस टीम के लिए एक टोल फ्री नंबर भी जारी किया जाएगा. साथ ही पूरे जिले से जो भी हमें सूचना मिलती है उस सूचना से यह कनेक्ट रहेंगे.

    पुलिस अधीक्षक ने यह भी कहा कि इसके अलावा शहर के कुछ इलाके से ऐसी भी सूचनाएं आती हैं कि असामाजिक तत्व लड़कियों और महिलाओं से छेड़खानी करते हैं, ऐसे में यह टीम वहां पहुंचकर उन पर भी कार्रवाई करेगी. इन्हीं सब वजहों से चीता टीम का गठन किया गया है.