भोजपुरिया जन मोर्चा के अध्यक्ष पर जानलेवा हमला, भागकर बचाई जान

भरत सिंह सहयोगी भोजपुरिया जन मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के अलावा RPS पब्लिक स्कूल के डॉयरेक्टर भी हैं. वे आरा संसदीय क्षेत्र से कई बार चुनाव भी लड़ चुके हैं.

News18 Bihar
Updated: September 6, 2019, 8:27 AM IST
भोजपुरिया जन मोर्चा के अध्यक्ष पर जानलेवा हमला, भागकर बचाई जान
भोजपुरिया जन मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भरत सिंह सहयोगी की गाड़ी पर अपराधियों ने फायरिंग की.
News18 Bihar
Updated: September 6, 2019, 8:27 AM IST
भोजपुर. बिहार में बेखौफ अपराधी (criminals) लगातार घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं और पुलिस महकमें के मुखिया सूबे में सब कुछ ठीक-ठाक होने की बात कह रहे हैं. शुक्रवार की देर रात भोजपुर (Bhojpur) में बेखौफ अपराधियों ने पुलिस के इसी दावे को आईना दिखा दिया जब भोजपुरिया जन मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उनके परिवार पर हथियार बंद अपराधियों ने जानलेवा हमला कर दिया. बताया जा रहा है कि अपराधियों ने उनकी गाड़ी पर अंधाधुंध फायरिंग (Firing) की. इस दौरान भोजपुरिया जन मोर्चा के अध्यक्ष भरत सिंह सहयोगी (Bharat Singh Sahyogi) और परिवार की महिला सदस्य किसी तरह अपराधियों की नजर से अपने आप को बचाते हुए मौके से भाग अपनी जान बचाई. घटना नवादा थाना क्षेत्र के बहिरो 11 नम्बर लख के समीप की है.

मिली जानकारी के अनुसार नवादा थाना क्षेत्र के बहिरो गांव निवासी रघुनंदन सिंह के 60 वर्षीय पुत्र भरत सिंह सहयोगी अपने परिवार की महिला सदस्य को आरा सदर अस्पताल से इलाज करवाकर अपने फोर व्हीलर से देर शाम अपने घर जा रहे थे. तभी घात लगाए अपराधियों ने उन पर जानलेवा हमला बोल दिया. हथियार से लैस अपराधियों ने भरत सिंह सहयोगी की गाड़ी को टारगेट करते हुए उस पर अंधाधुंध फायरिंग की.

Crime
भोजपुर में हमला


भरत सिंह सहयोगी भोजपुरिया जन मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के अलावा RPS पब्लिक स्कूल के डॉयरेक्टर भी हैं. वे आरा संसदीय क्षेत्र से कई बार चुनाव भी लड़ चुके हैं. भरत सिंह सहयोगी ने कुछ दिनों पहले ही अपनी जान को खतरा होने की आशंका जताते हुए नवादा थाना पुलिस को लिखित आवेदन देकर पुलिस को अवगत कराया था.

बता दें कि शुक्रवार की शाम में भी उन्होंने इस आशंका को जताते हुए सोशल मीडिया के अपने फेसबुक साइट पर लाइव विडियो जारी कर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे से सुरक्षा को लेकर गुहार लगाई थी. जिसके बाद अपराधियों ने उनको निशाना बनाते हुए हमला बोल दिया. इस घटना के बाद जहां भरत सिंह सहयोगी का पूरा परिवार दहशत के साये में है.

crime
भोजपुर


मामले की सूचना मिलते ही नवादा थाना पुलिस दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंच पूरे मामले की छानबीन की. पुलिस भरत सिंह सहयोगी और उनके परिवार की सुरक्षा के लिए उनके घर पर अभी कैंप किए हुए हैं. नवादा थानाध्यक्ष ने कहा कि मामले की छानबीन की जा रही है, जो भी दोषी होंगे उन्हें बख्शा नहीं जाएगा. पुलिस उनकी और उनके परिवार की सुरक्षा के लिए तत्पर है.
Loading...

ये भी पढ़ें-

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोजपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 6, 2019, 8:27 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...