Home /News /bihar /

बिहार: छात्रों के हंगामे पर वीक्षकों ने किया बहिष्कार तो पुलिसवालों ने संभाला मोर्चा, कराई बीएड परीक्षा

बिहार: छात्रों के हंगामे पर वीक्षकों ने किया बहिष्कार तो पुलिसवालों ने संभाला मोर्चा, कराई बीएड परीक्षा

आरा के महाराज कॉलेज में बीएड के पहले सेमेस्टर की परीक्षा पुलिसवालों ने कराई.

आरा के महाराज कॉलेज में बीएड के पहले सेमेस्टर की परीक्षा पुलिसवालों ने कराई.

बिहार में पहली बार पुलिस (Police) ने कोई एग्जाम कंडक्ट कराया. आरा के महाराजा कॉलेज में पुलिसवालों ने बीएड (B. Ed) के पहले सेमेस्टर की परीक्षा (Exam) संपन्न कराई.

    रिपोर्ट- अभिनय प्रकाश

    भोजपुर. बिहार के भोजपुर (Bhojpur) में पुलिस (Police) ने सराहनीय कदम उठाते हुए वीक्षक बनकर बीएड की परीक्षा (B.Ed Exam) कराई. दरअसल वीक्षकों ने परीक्षा का बहिष्कार कर दिया था. जिसके बाद पुलिस ने परीक्षा कराने की जिम्मेदारी संभाल ली. परीक्षा शांतिपूर्ण संपन्न होने के बाद परीक्षार्थियों ने पुलिस को धन्यवाद दिया.

    बिहार में पहली बार पुलिस ने कराई परीक्षा 

    बिहार में पहली बार पुलिस ने कोई एग्जाम कंडक्ट कराया. आरा शहर के महाराजा कॉलेज में बीएड के प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा को यूनिवर्सिटी एवं महाराजा कॉलेज के वीक्षकों और कर्मचारियों ने यह आरोप लगाकर शुक्रवार को रद्द कर दिया कि परीक्षार्थी हंगामा कर रहे हैं. दूसरे दिन यानी शनिवार को भी जब दूर-दूर परीक्षार्थी महाराजा कॉलेज में परीक्षा देने आए तो कॉलेज के वीक्षकों ने छात्र-छात्राओं द्वारा हंगामा करने का आरोप लगाकर एक बार फिर से परीक्षा का बहिष्कार कर दिया. और सारे वीक्षक कॉलेज से निकल गए.

    वीक्षकों के रवैये से परीक्षार्थी थे दुखी 

    वीक्षकों के इस रवैये से परीक्षार्थी काफी मायूसी दिखाई दिए. वे अपने भविष्य को लेकर चिंतित थे. कई छात्रों की आंखों में आंसू थे. इधर, सूचना मिलते ही सदर एसडीपीओ पंकज कुमार रावत, नगर थानाध्यक्ष अविनाश कुमार सहित कई अन्य थानाध्यक्ष पुलिस बल के साथ महाराजा कॉलेज पहुंचे. इसके बाद एसडीपीओ पंकज कुमार रावत के नेतृत्व में पुलिस जवानों के द्वारा परीक्षा कराई गयी. प्रश्नपत्र बांटने से लेकर सारे काम पुलिसवालों ने ही किये.

    परीक्षा कराने की जिम्मेदारी पुलिसवालों ने ली

    सदर एसडीपीओ पंकज कुमार रावत ने बताया कि हमें सूचना मिली कि महाराजा कॉलेज में बीएड की परीक्षा है. लेकिन यहां छात्र- छात्राएं मोबाइल एवं अन्य इलेक्ट्रॉनिक तत्व लेकर कॉलेज में प्रवेश कर गए. जिसके बाद हमलोगों ने वहां पहुंचकर छात्र-छात्राओं से अनुरोध किया, तो सभी छात्र-छात्राओं ने मोबाइल सहित सभी इलेक्ट्रॉनिक सामान, टेक्निकल सामान जमा करा दिये. इसके बाद पता चला कि शिक्षक एवं वीक्षक बहिष्कार कर वहां से चले गए हैं. इसके बाद मैंने यूनिवर्सिटी प्रोटेक्टर एवं वीसी साहब से अनुरोध किया कि बच्चे यहां परीक्षा देने आए हैं और बच्चों के भविष्य का सवाल है तो उनसे परीक्षा ली जाए. बच्चे भी परीक्षा देने के लिए तैयार हैं. इसके बाद महाराजा कॉलेज के प्रभारी प्रिंसिपल एवं यूनिवर्सिटी प्रोटेक्टर के नेतृत्व में यहां परीक्षा लिया गया.

    एसडीपीओ के मुताबिक यूनिवर्सिटी प्रोटेक्टर एवं प्रभारी प्रिंसिपल ने मैन पावर की मांग की. जिसके बाद पुलिसवालों ने प्रश्नपत्र बांटकर सारे काम किये और परीक्षा कराई.

    प्रोटेक्टर डॉ. नीरज कुमार ने पुलिस को धन्यवाद देते हुए कहा कि जैसे हमारी पुलिस फोर्स अपराधी, नक्सलवाद, चोरों एवं लुटेरों से हमेशा लड़ते हैं, लेकिन आज महाराजा कॉलेज में कदाचार मुक्त परीक्षा कराने में भी मदद की.

    नीरज कुमार के मुताबिक बिहार में ऐसा पहली बार हुआ कि पुलिस ने किसी एग्जाम को कंडक्ट कराई हो. परीक्षार्थियों ने भी इसके लिए पुलिस को धन्यवाद दिया.

    Tags: Bhojpur news, Bihar News, Bihar police, Exam

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर