होम /न्यूज /बिहार /Success Story: मास्टर डिग्री लेकर अनिता ने शुरू किया जूते-चप्पल का काम, अब दे रहीं रोजगार

Success Story: मास्टर डिग्री लेकर अनिता ने शुरू किया जूते-चप्पल का काम, अब दे रहीं रोजगार

Startup in Bihar: आरा शहर के कतीरा में रहने वाली अनिता कुमारी ने नोएडा से फुटवियर डिजाइनिंग में मास्टर डिग्री हासिल की ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट: आलोक कुमार भारती

    भोजपुर. कहते हैं कि मेहनत इतनी खामोशी से करो कि सफलता दुनिया में शोर मचा दे. कुछ ऐसा ही कर दिखाया है बिहार के आरा की अनिता ने. अनिता ने आरा में फुटवियर का स्टार्टअप शुरू किया. तमाम परेशानियों को झेलते हुए उसने अब एक अलग मुकाम बना लिया है. आत्मनिर्भरता के साथ-साथ अनिता अब अपने व्यवसाय में आरा में 20 लोगों को रोजगार भी दे रही हैं. यही कारण है कि आरा की ‘रोशनीता इंटरप्राइजेज’ अब किसी पहचान का मोहताज नहीं है. अनिता की फैक्ट्री के प्रोडक्ट की क्वालिटी किफायती, ड्यूरेबल और कंफर्टेबल होती है.

    2018 से शुरू हुआ अनिता का सफर

    आरा शहर के कतीरा में रहने वाली अनिता कुमारी ने वर्ष 2018 में नोएडा से फुटवेयर डिजाइनिंग में मास्टर की डिग्री ली. इसके बाद उसने खुद का स्टार्टअप भोजपुर जिले के आरा शहर में शुरू किया. महिला व पुरुष के पहनने के लिए फुटवियर बिजनेस में न केवल कदम रखा बल्कि अपनी मेहनत और लगन के बल पर कुछ ही समय में अपने स्टार्टअप को एक ब्रांड का रूप भी दे दिया. वोकल फॉर लोकल की अवधारणा के साथ अनिता आत्मनिर्भर बन अन्य महिलाओं के लिए प्रेरणास्रोत बन गई हैं. व्यापार बढ़ा तो उसने अब 20 लोगों को रोजगार भी दिया है. इसमें आधा दर्जन से अधिक महिलाएं हैं. खुद भी अच्छा मुनाफा कमा रही हैं.

    नौकरी का विकल्प ठुकरा शुरू किया उद्योग

    अनिता बताती हैं कि फुटवियर डिजाइनिंग एंड डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट से मास्टर्स डिग्री करने के बाद वह अपने गांव आरा चली आईं, जबकि उसके कई दोस्तों ने अच्छे पैकेज पर नौकरी कर ली. वह बताती हैं कि किसी बड़े फुटवियर कंपनी में नौकरी करने का उनके पास आसान विकल्प था, लेकिन उन्होंने जो कुछ सीखा, उसका प्रयोग अपने शहर आरा में करने का निर्णय लिया. वह आरा शहर की महिलाओं को रोजगार देकर आत्मनिर्भर बनाना चाहती थी. इस कारण से उन्होंने एमएसएमई से सहयोग लेकर रोशनीता इंटरप्राइजेज नाम से लेदर उत्पाद की कंपनी बनाई. अनिता अपने यहां महिलाओं को प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगार भी दे रही हैं.

    शहर की दुकानों में करती हैं फुटवेयर सप्लाई

    वह अपने फुटवेयर ब्रांड से जूते-चप्पल तैयार कर आरा शहर के दुकानों, स्कूली बच्चों व पुलिसकर्मियों को आपूर्ति करती हैं. इन्होंने शहर के पकड़ी इलाके में एक आउटलेट भी खोला है. अनिता बताती हैं कि उन्होंने सस्ते में नया डिजाइन प्रस्तुत किया. इससे उनका उद्योग चल निकला. हालांकि शुरुआती कुछ महीनों में उन्हें काफी परेशानी हुई, लेकिन बाद में धीरे-धीरे उन्हें मुनाफा दिखने लगा और अब समाज में एक मिसाल पैदा कर रही हैं.

    Tags: Bhojpur news, Bihar News, Startup Idea

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें