गोविंदगंज: JDU के गढ़ में BJP की मदद से लहराया था LJP का परचम, फिर बदले राजनैतिक समीकरण

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 (Bihar Assembly Election 2020) से पहले सूबे के राजनैतिक समीकरण (Political Equation)  एक बार फिर बदल गए हैं. ये बदले हुए समीकरण पूर्वी चंपारण (East Champaran) की गोविंदपुरा सीट (Govindganj) को भी प्रभावित करने वाले हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 25, 2020, 7:09 PM IST
  • Share this:
गोविंदगंज. बिहार (Bihar) के पूर्वी चंपारण (East Champaran) जिले के अंतर्गत आने वाले गोविंदगंज विधानसभा क्षेत्र (Govindganj Assembly Constituency) के राजनैतिक समीकरण (Political Equation) एक बार फिर बदल गए हैं. दरअसल, गोविंदगंज विधानसभा क्षेत्र से 2000 के चुनाव में निर्दलीय प्रत्‍याशी राजन तिवारी (Rajan Tiwari) ने जीत दर्ज की थी. जिसके बाद, बिहार के राजनैतिक समीकरण तेजी से बदलना शुरू हो गए. एक तरफ, जेडीयू (JDU) और बीजेपी (BJP) की दोस्‍ती ने गोविंदगंज विधानसभा के समीकरण को पूरी तरह से बदल दिया. वहीं, दूसरी तरह बदलते माहौल को देखते हुए राजन तिवारी ने लोक जनशक्ति पार्टी का दामन थाम लिया.

फरवरी 2005 में हुए विधानसभा चुनाव में एनडीए की तरह से जेडीयू की उम्‍मीदवार मीना द्विवेदी को चुनावी मैदान में उतारा गया. वहीं, जेडीयू की मीना द्विवेदी का सीधा मुकाबला तत्‍कालीन यूपीए के घटक लोक जनशक्ति पार्टी के उम्‍मीदवार राजन तिवारी से था. इस चुनाव में बीजेपी और जेडीयू की संयुक्‍त उम्‍मीदवार मीना द्विवेदी ने राजन तिवारी को शिकस्‍त दे दी. जेडीयू की मीना द्विवेदी की जीत का सिलसिला 2005 अक्‍टूबर और 2010 के विधानसभा चुनाव में भी जारी रहा. इन दोनों चुनावों में एलजेपी के राजन तिवारी की किस्‍मत में जीत नहीं आई. वहीं, 2015 आते-आते बिहार के राजनैतिक समीकरण एक बार फिर बदलने लगे. बीजेपी और जेडीयू की करीब डेढ़ दशक पुरानी टूट गई.

बीजेपी की मदद से पूरा हुआ एलजेपी का सपना
2015 के विधानसभा चुनाव में राजनैतिक समीकरण पूरी तरह से बदल गए थे. कल तक जो दोस्‍त थे, अब वे विरोधी बन चुके थे. वहीं, विरोधी अब दोस्‍त बन गए थे. कल तक यूपीए के हिस्‍सा रहा एलजेपी, अब एनडीए का साझेदार बन गया था. वहीं, हर वक्‍त बीजेपी के साथ मजबूती से खड़े रहने वाले जेडीयू ने राजद और कांग्रेस से हाथ मिला कर महागठबंधन तैयार कर लिया था. बिहार विधानसभा चुनाव 2015 में गोविंदगंज विधानसभा सीट से एनडीए की तरफ से एलजेपी के उम्‍मीदवार राजू तिवारी को उतारा गया था. वहीं, महागठबंधन की तरफ से कांग्रेस के उम्‍मीदवार को ब्रजेश कुमार को चुनावी मैदान में उतारा गया. इस चुनाव में एलजेपी के राजू तिवारी ने 27920 वोटों से कांग्रेस के उम्‍मीदवार ब्रजेश कुमार को शिकस्‍त दी थी.
2 दशक से इनके हाथ रहा गोविंदगंज का प्रतिनिधित्‍व



2000                 : राजन तिवारी                  (निर्दलीय)
2005 फरवरी       : मीना द्विवेदी                    (जेडीयू)
2005 अक्‍टूबर      : मीना द्विवेदी                    (जेडीयू)
2010                  : मीना द्विवेदी                    (जेडीयू)
2015                  : राजू तिवारी                    (एलजेपी)

मतदाता:

कुल मतदाता        : 259753

पुरुष मतदाता       : 138187
महिला मतदाता     : 121566 (लोकसभा चुनाव 2019 के आंकडों के अनुसार)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज