Narkatia: 2020 के विधानसभा चुनाव में सलामत RJD की लालटेन या JDU का फिर फहराएगा परचम?

2008 में परिसीमन (Delimitation) के बाद अस्तित्‍व में आई बिहार (Bihar) की नरकटिया विधानसभा सीट (Narkatiya Assembly Seat) से बीजेपी (BJP) के सहयोगी दल अपने उम्‍मीदवार को चुनावी मैदान में उतारते रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2020, 7:54 PM IST
  • Share this:
नरकटिया. बिहार विधानसभा चुनाव 2020 (Bihar Assembly Elections 2020) में जेडीयू (JDU) और राजद (RJD) के बीच बेहद रोचक मुकाबला हो जा रहा है. 2008 में परिसीमन के बाद अस्तित्‍व में आई पूर्वी चंपारण (Purvi Champaran) जिले की नरकटिया विधानसभा सीट (Narkatiya Assembly Constituency) पर अब तक सिर्फ दो चुनाव हुए हैं. यहां पहला विधानसभा 2010 में हुआ था. इस चुनाव में जेडीयू के श्‍याम बिहारी प्रसाद (Shyam Bihari Prasad) ने जीत दर्ज की थी. श्‍याम बिहारी प्रसाद ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी यास्मिन साबिर अली (Yasmin Sabir Ali) को 7688 वोटों से हराया था. यास्मिन साबिर अली लोकजन शक्ति पार्टी (LJP) के उम्‍मीदवार थे.

2015 के चुनाव में आरजेडी ने जमाया अपना कब्‍जा
2015 के विधानसभा चुनाव से पहले बिहार के राजनैतिक समीकरण पूरी तरह से बदल चुके थे. इस बदलाव की मुख्‍य वजह बीजेपी और जेडीयू के बीच आई दूरियां थीं. इस चुनाव से पहले करीब एक दशक तक चली गठबंधन की गांठ खुल गई थी. जेडीयू अब राजद और कांग्रेस के साथ जा खड़ा हुआ था. वहीं, बीजेपी ने लोक जनशक्ति पार्टी, राष्‍ट्रीय लोक समता पार्टी सहित कुछ अन्‍य क्षेत्रीय पार्टियों के साथ मिलकर चुनावी बिगुल बजाया था. जेडीयू, राजद और कांग्रेस के इस नए गठबंधन को महागठबंधन का नाम मिला था. इस महागठबंधन की तरफ से नरकटिया विधानसभा क्षेत्र से राजद के उम्‍मीदवार शमीम अहमद को चुनाव में उतारा गया था. वहीं बीजेपी गठबंधन की तरफ से राष्‍ट्रीय लोक समता पार्टी के संत सिंह कुश्‍वाहा मैदान में थे. इस चुनाव में राजद के शमीम अहमद ने 19982 वोटो के अंतर से जीत हासिल की थी.

2010 और 2015 के चुनाव में इनके नाम रही जीत
2010 : श्‍याम बिहारी प्रसाद (जेडीयू)



2015 : शमीम अहमद         (आरजेडी)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज