BIHAR ELECTION 2020: JDU की बेरुखी के बाद भी BJP ने कल्‍याणपुर में लहाराया था अपना परचम और अब...

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में जेडीयू और बीजेपी एक बार फिर एक मंच पर आ चुके हैं. ऐसे में देखना दिलचस्‍प होगा कि इस बार यह सीट बीजेपी को मिलती है या फिर जेडीयू के खाते में जाती है.
बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में जेडीयू और बीजेपी एक बार फिर एक मंच पर आ चुके हैं. ऐसे में देखना दिलचस्‍प होगा कि इस बार यह सीट बीजेपी को मिलती है या फिर जेडीयू के खाते में जाती है.

बिहार (Bihar) में 2008 के परिसीमन (Delimitation) के बाद पूर्वी चंपारण (East Champaran) की कल्‍याणपुर विधानसभा (Kalyanpur Assembly) अस्तित्‍व में आई थी. बिहार विधानसभा में कल्‍याणपुर की क्रम संख्‍या 16 है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 26, 2020, 2:39 PM IST
  • Share this:
कल्‍याणपुर. बिहार (Bihar) के पूर्वी चंपारण (East Champaran) जिले के अंतर्गत आने वाली कल्‍याणपुर विधानसभा सीट (Delimitation) 2008 के परिसीमन के बाद अस्तित्‍व में आई थी. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) 2010 में पहली बार कल्‍याणपुर (Kalyanpur) विधानसभा क्षेत्र में चुनाव कराए गए थे. इस चुनाव में बीजेपी (BJP) और जेडीयू (JDU) की संयुक्‍त प्रत्‍याशी के तौर पर रजिया खातून (Razia Khatun) मैदान में उतरी थी. जेडीयू की उम्‍मीदवार रजिया खातून ने इस चुनाव में आरजेडी के मनोज यादव (Manoj Yadav) को शिकस्‍त दी थी.



वहीं, लोकसभा चुनाव 2014 से पहले गुजरात के तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री नरेंद्र मोदी को एनडीए का प्रधानमंत्री प्रत्‍याशी बनाए जाने से नाराज जेडीयू ने बीजेपी से अपना नाता तोड़ लिया था. बिहार विधानसभा चुनाव 2015 में चुनावी समीकरण को अपने पक्ष में रखने के लिए जेडीयू ने अपनी धुर विरोधी पार्टी आरजेडी और कांग्रेस से हाथ मिलकार महागठबंधन बनाया था. इस चुनाव में जेडीयू ने कल्‍याणपुर विधानसभा से एक बार फिर रजिया खातून को महागठबंधन का उम्‍मीदवार बनाया था. वहीं, इस सीट से बीजेपी ने सचिंद्र प्रसाद सिंह को चुनाव में उतारा था. इस चुनाव में नतीजे बीजेपी के सचिंद्र प्रसाद सिंह के पक्ष में गए और उन्‍हें भारी अंतर से विजय मिली.





केसरिया विधानसभा छोड़ कल्‍याणपुर से लड़ा था चुनाव
लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान, कल्‍याणपुर विधानसभा सीट में कुल मतदाताओं की संख्‍या 2 लाख 46 हजार 603 थी. जिसमें 1 लाख 30 हजार 808 पुरुष मतदाता, 1 लाख 15 हजार 791 महिला मतदाता और 4 ट्रांसजेंडर शामिल हैं. इस विधानसभा की राजनीति करने वाले दोनों ही नेता मूलत: केसरिया विधानसभा क्षेत्र की राजनीति करते रहे हैं. जेडीयू की रजिया खातून ने केसरिया विधानसभा से 2005 अक्‍टूबर में चुनाव लड़ा था. वहीं, सचिंद्र प्रसाद सिंह 2010 के बिहार विधानसभा चुनाव में केसरिया से विधायक चुने गए थे. हालांकि, बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में जेडीयू और बीजेपी एक बार फिर एक मंच पर आ चुके हैं. ऐसे में देखना दिलचस्‍प होगा कि इस बार यह सीट बीजेपी को मिलती है या फिर जेडीयू के खाते में जाती है.
कल्‍याणपुर सीट से विधायक
2010 : रजिया खातून (जेडीयू)
2015 : सचिंद्र प्रसाद सिंह (बीजेपी)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज