SHEOHAR से लगातार 6 बार चुनाव जीते थे रघुनाथ झा, फिलहाल JDU के पास है यह सीट

कांग्रेस (Congress) और जनता दल (Janata Dal) में रहे बिहार (Bihar) के कद्दावर नेता रघुनाथ झा (Raghunath Jha) शिवहर विधानसभा क्षेत्र (Sheohar Assembly Constituency) से लगातार छह बार विधायक (MLA) चुने गए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 26, 2020, 4:18 PM IST
  • Share this:
शिवहर. बिहार (Bihar) की राजनीति में शिवहर विधानसभा क्षेत्र (Sheohar Assembly Constituency) की खासी अहमियत रही है. शिवहर ही बिहार के कद्दावर नेता रघुनाथ झा (Raghunath Jha) लगातार छह बार चुनाव जीतकर बिहार विधानसभा पहुंचे थे. शिवहर का पहला विधानसभा चुनाव 1952 में हुआ था. इस चुनाव में कांग्रेस के उम्‍मीदवार ने जीत दर्ज की थी. वहीं, 1957, 1962 और 1967 के विधानसभा चुनाव में शिवहर से निर्दलीय उम्‍मीदवारों ने जीत दर्ज की थी. 1969 के विधानसभा चुनाव में भारतीय क्रांति दल के ठाकुर गरिजा नंदन सिंह (Thakur Girija Nandan Singh) ने जीत दर्ज की थी. ठाकुर गिरिजा नंदन सिंह इससे पहले 1952 में कांग्रेस (Congress) की टिकट पर और 1957 में निर्दलीय विधायक चुने जा गए थे.



1972 से शुरू हुए रघुनाथ झा का राजनैतिक सफर
रघुनाथ झा पहली बार 1972 में शिवहर से विधानसभा पहुंचे. वह पहली बार कांग्रेस की टिकट पर चुनाव जीते थे. 1972 के बाद, रघुनाथ झा ने 1977 और 1980 के चुनाव में कांग्रेस की टिकट पर जीत हासिल की. इसके बाद, रघुनाथ झा कांग्रेस का साथ छोड़कर जनता पार्टी में आ गए. उन्‍होंने जनता पार्टी के प्रत्‍याशी के तौर पर 1985 का विधानसभा चुनाव शिवहर से जीता. इसके बाद, वे जनता दल में शामिल हो गए. उन्‍होंने जनता दल की टिकट पर 1990 और 1995 का विधानसभा चुनाव लड़ा और जीत हासिल की. 2000 के विधानसभा चुनाव में शिवहर से राष्‍ट्रीय जनता दल के सत्‍य नारायण प्रसाद ने जीत दर्ज की. 2005 फरवरी और 2005 अक्‍टूबर के विधानसभा चुनाव में रघुनाथ झा के पुत्र अजीत झा राजद की टिकट पर चुनाव जीतकर बिहार विधानसभा पहुंचे.





2010 के बाद से शिवहर में है जेडीयू का कब्‍जा
2010 के विधानसभा चुनाव में शिवहर से जेडीयू के उम्‍मीदवार सरफुद्दीन ने जीत दर्ज की. वहीं, 2015 के विधानसभा चुनाव में भी सरफुद्दीन चुनाव जीतने में सफल रहे है. इस चुनाव में सरफुद्दीन ने हिंदुस्‍तानी आवाम मोर्चा (सेकुलर) के उम्‍मीदवार लभली आनंद को हराया था. इस चुनाव में शरफद्दीन और लभली आनंद के बीच जीत और हार का अंतर महज 461 वोटों का था. बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में अब देखना होगा कि बीजेपी और जेडीयू की जोडी शिवहर में सीट बचाने में कामयाब रहती हैं या फिर आरजेडी इस सीट पर एक बार फिर बाजी मारने में सफल हो जाती है. उल्‍लेखनीय है लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान, शिवहर विधानसभा सीट में कुल मतदाताओं की संख्‍या 2 लाख 89 हजार 772 थी. जिसमें 1 लाख 53 हजार 877 पुरुष मतदाता, 1 लाख 35 हजार 885 महिला मतदाता और 10 ट्रांसजेंडर मतदाता हैं.



ये हैं शिवहर के विधायक
1952: ठाकुर गिरजा नंदन सिंह (कांग्रेस)

1957: ठाकुर गिरजा नंदन सिंह (निर्दलीय)

1962: चितरंजन सिंह (कांग्रेस)

1967: टीजीएस सिंह (निर्दलीय)

1969: ठाकुर गिरजा नंदन सिंह (भारतीय क्रांति दल)

1972: रघुनाथ झा (कांग्रेस)

1977: रघुनाथ झा (कांग्रेस)

1980: रघुनाथ झा (कांग्रेस)

1985: रघुनाथ झा (जनता पार्टी)

1990: रघुनाथ झा (जनता दल)

1995: रघुनाथ झा (जनता दल)

2000: सत्‍य नारायण प्रसाद (राष्‍ट्रीय जनता दल)

2005 फरवरी: अजीत झा (राष्‍ट्रीय जनता दल)

2005 अक्‍टूबर: अजीत झा (राष्‍ट्रीय जनता दल)

2010: सरफुद्दीन (जेडीयू)

2015: सरफुद्दीन (जेडीयू)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज