Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    बक्सर गैंगरेप केस में बड़ा खुलासा! मायके और पड़ोस के गांव वाले निकले आरोपी

    उन्होंने बताया कि जब्त चरस की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार के अनुसार करीब 20 करोड़ रुपये आंकी गई है.  (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)
    उन्होंने बताया कि जब्त चरस की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार के अनुसार करीब 20 करोड़ रुपये आंकी गई है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

    BUXAR Gang Rape: महिला से बालात्‍कार करने के बाद हाथ-पैर बांध कर उनको और उनके बच्‍चे को नहर में फेंक दिया गया था. इसमें बच्‍चे की मौत हो गई.

    • Share this:
    बक्सर. बक्सर गैंगरेप (Buxar Gang Rape) मामले में बड़ा डेवलपमेंट सामने आया है. बताया जा रहा है कि सभी आरोपी पीड़िता के मायके और उनके पड़ोस के गांव के रहने वाले हैं. इस मामले में पुलिस ने दो लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया है, जबकि 3 अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज की गई है. हालांकि, पुलिस अभी तक मात्र एक ही आरोपी को गिरफ्तार कर पाई है. बाकी के चारों आरोपी अभी फरार बताए जा रहे हैं. इनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी (Raid) कर रही है.

    इस बीच, मृत बच्चे का पोस्टमार्टम करने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है, लेकिन अभी तक रिपोर्ट नहीं आई है. कहा जा रहा है कि इसकी वजह से परिजनों ने अभी तक शव का अंतिम संस्कार नहीं किया है. वहीं, पीड़िता का मेडिकल हो चुका है, लेकिन अब तक उसकी भी रिपोर्ट नहीं आई है. जानकारी के मुताबिक, पीड़िता की सोमवार को रिपोर्ट आ सकती है.





    पीड़ि‍ता को बच्चे समेत हाथ-पैर बांधकर नहर में फेंका था
    बता दें कि रविवार को बक्सर में एक 30 वर्षीय महिला से रेप (Gang Rape) करने के बाद बदमाशों ने उन्‍हें बच्चे के साथ हाथ-पैर बांधकर नहर में फेंक दिया था. इस घटना में जहां पीड़िता के बच्चे की मौत हो गई थी, वहीं राहगीरों की नजर पड़ने के कारण पीड़िता (Rape Victim) को बचा लिया गया. घटना बक्सर के मुरार थाना क्षेत्र की है. पीड़ि‍त महिला अपने बच्चे के साथ शनिवार को बैंक से पैसे निकालने गई थीं, जब उनके साथ इस जघन्‍य घटना को अंजाम दिया गया.

    जांच पड़ताल की तो देखकर सबके होश उड़ गए
    महिला अपने बच्चे के साथ निकलीं तो वापस घर नहीं पहुंचीं. इसके बाद जब परिजनों ने उनकी खोजबीन की तो देखकर सबके होश उड़ गए. परिजनों के मुताबिक, महिला के साथ दुष्कर्म की घटना हुई और इस घटना को अंजाम देने के बाद उन्‍हें बेसुध हालत में बच्चे के समेत हाथ पैर बांधकर नहर में फेंक दिया गया, जिससे उनके बच्चे की मौत हो गई. इलाके से गुजर रहे ग्रामीणों ने महिला को देखा और इसकी जानकारी उनके परिजनों को दी. इसके बाद लोग घटनास्थल पर पहुंचे और महिला को बचाया गया था. फिलहाल, उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज