दूसरी शादी का विरोध करने पर पिता ने दो बेटों को चाकू से गोदा, एक की मौत

News18 Bihar
Updated: August 19, 2019, 9:56 AM IST
दूसरी शादी का विरोध करने पर पिता ने दो बेटों को चाकू से गोदा, एक की मौत
पिता ने पुत्र को उतारा मौत के घाट

रामबाबू की दूसरी शादी के बाद आए दिन घर में विवाद होता था. रविवार को भी इस बात को लेकर विवाद शुरू हो गया. इसके बाद...

  • Share this:
बिहार के बक्सर (Buxar) जिले में एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां दूसरी शादी का विरोध करने पर एक पिता ने अपने दो बेटों पर चाकू से जानलेवा हमला कर दिया. इस दौरान पिता ने बड़े बेटे की हत्या कर दी. मृतक का नाम पप्पू नोनिया है. वहीं, छोटे बेटे की हालत गंभीर बनी हुई है. इस घटना से आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई है. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. साथ ही घायल छोटे बेटे को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

मामला राजपुर थाना क्षेत्र स्थित कोचाढ़ी गांव का है
जानकारी के मुताबिक, मामला राजपुर (Rajpur) थाना क्षेत्र स्थित कोचाढ़ी गांव का है. कहा जा रहा है कि छह महीने पहले कोचाढ़ी गांव (Kochadhi Village) के रहने वाले रामबाबू सिंह की पत्नी की मौत हो गई थी. इसके बाद उसने दूसरी शादी करने का फैसला किया. दोनों बेटे और बहू इसके खिलाफ थे. घरवालों के विरोध के बावजूद रामबाबू ने नहीं माना और उसने दूसरी शादी कर ली.

रामबाबू की दूसरी शादी के बाद आए दिन घर में विवाद होता था

दैनिक भास्कर के अनुसार
, रामबाबू की दूसरी शादी के बाद आए दिन घर में विवाद होता था. रविवार को भी इस बात को लेकर विवाद शुरू हो गया. पिता और दो बेटों के बीच जमकर मारपीट हुई. इसके बाद रामबाबू ने चाकू से दोनों बेटों पर हमला कर दिया. दोनों को गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने बड़े बेटे को मृत घोषित कर दिया. इधर, बेटे की हत्या कर भाग रहे पिता को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और उसे पुलिस के हवाले कर दिया.

ये भी पढ़ें- 

AK-47 केस: पटना पुलिस की रेड से पहले ही फरार हो गए अनंत सिंह
Loading...

'छोटे सरकार' पर इतने दिनों तक क्यों थी 'सरकार' की अनंत कृपा?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बक्सर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 19, 2019, 9:56 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...