लाइव टीवी

इस शहर में अचानक बढ़ गई नारियल की डिमांड, रोजाना 10 ट्रक भी पड़ रहे हैं कम

चंद्रमोहन | News18Hindi
Updated: October 18, 2019, 8:04 PM IST
इस शहर में अचानक बढ़ गई नारियल की डिमांड, रोजाना 10 ट्रक भी पड़ रहे हैं कम
लोगों का दावा है कि इस बीमारी में “डाभ” कच्चा नारियल सबसे कारगर माना जाता है.

विक्रेताओं का कहना है कि कुछ दिन पहले तक एक हफ्ते में 3 ट्रक नारियल (Coconut) आता था. जोकि मुश्किल से ही बिकता था, लेकिन अब रोजाना 10 ट्रक भी कम पड़ रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 18, 2019, 8:04 PM IST
  • Share this:
पटना. बीते कुछ वक्त तक बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Patna) टापू बन गया था. क्या आम जनता और क्या नेता-अधिकारी, सभी सड़क पर नाव की सवारी कर रहे थे, लेकिन अब उसी शहर में अचानक से नारियल (Coconut) की डिमांड बढ़ गई है. शहर में नारियल के 10 ट्रक रोज आ रहे हैं. लेकिन शहर की डिमांड के हिसाब से वो भी कम पड़ रहे हैं.  आजकल तो माल आने से पहले दुकानदार के पास नारियल के लिए पैसे पहुंच जा रहे हैं.

इसलिए पटना में बढ़ गई नारियल की डिमांड

जानकारों की मानें तो पटना के मुख्य शहरी इलाके से पानी निकल चुका है. लेकिन डेंगू के कहर ने पटना के लोगो का जिना मुहाल कर दिया है. पटना में अब तक दो हजार लोग डेंगू का शिकार हो गये हैं. मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. ऐसे में लोगों का दावा है कि इस बीमारी में कच्चा नारियल सबसे कारगर माना जाता है. अगर इस नारियल का पानी पिया जाए तो बीमारी में काफी फायदा मिलता है.

ये बोले नारियल बेचने वाले दुकानदार

पटना बाईपास पर कच्चे नारियल का कारोबार करने वाले रामजी सिंह की माने तो पटना में कच्चे नारियल की डिमांड सिर्फ डेंगू बीमारी की वजह से हुई है. वर्ना पहले तो कई बार ऐसा भी हुआ है कि एक सप्ताह में तीन ट्रक कच्चा नारियल मुश्किल से बिक पाता था. पहले खुदरा विक्रेता नारियल आधी कीमत देकर ले जाते थे और दूसरे दिन माल बिक जाने के बाद पैसा देते थे. अब जब कच्चे नारियल के पानी की मांग बढ़ी है तो ट्रक आने से पहले छोटे कारोबारी पूरे ट्रक का माल एडवांस में ही खरीद लेते हैं.

ये भी पढ़ें-

BHU में बोले Amit Shah ‘कब तक हम वामपंथियों-इतिहासकारों को गाली और दोष देंगे’  
Loading...

FSSAI की रिपोर्ट में हुआ खुलासा, देश मे 41 फीसदी दूध की क्वालिटी ठीक नही है

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 18, 2019, 6:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...