NDA परीक्षा में दिखा कोरोना का खौफ, 99 सेंटरों पर पर महज 54 प्रतिशत कैंडिडेट्स ही हुए शामिल

पटना में आयोजित एनडीए की परीक्षा में 50 प्रतिशत स्टूडेंट ही एग्जाम देने पहुंचे.

पटना में आयोजित एनडीए की परीक्षा में 50 प्रतिशत स्टूडेंट ही एग्जाम देने पहुंचे.

बिहार (Bihar) में कोरोना संक्रमण का साफ असर NDA परीक्षा में देखने को मिला. पटना के 99 सेंटरों पर महज 54 प्रतिशत कैंडिडेट्स ही परीक्षा (Exam) में शामिल हुये. वहीं 46 प्रतिशत स्टूडेंट्स (Students) ने एग्जाम ही नहीं दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 19, 2021, 3:50 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार (Bihar) में कोरोना संक्रमण बढ़ने के कारण राज्य सरकार ने शिक्षण संस्थान और परीक्षाओं (Exams) पर रोक लगा दी है, लेकिन संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षाओं को इससे मुक्त रखा गया है. कोरोना (Corona) का कहर इतना तेज है कि परीक्षाओं पर इसका असर साफ दिख रहा है. नेशनल डिफेंस अकेडमी की लिखित परीक्षा में कोरोना का डर साफ तौर पर देखने को मिल रहा है.

आज पटना के 99 सेंटरों पर पर महज 54 प्रतिशत कैंडिडेट्स ही शामिल हुये. 46 प्रतिशत ने एग्जाम ही नहीं दिया. रविवार को पटना में कुल 99 एग्जामिनेशन सेंटर बनाए गए थे. पटना के तमाम सेंटरों पर 100 प्रतिशत कैंडिडेट्स की मौजूदगी नहीं थी. पटना जिला प्रशासन के अनुसार सिर्फ 54 प्रतिशत कैंडिडेट्स ने ही NDA का एग्जाम दिया है.

यह आंकड़ा दोनों पालियों के एग्जाम के खत्म होने के बाद सामने आया है. कोरोना वायरस के तेजी से फैलते संक्रमण को देखते हुए 46 प्रतिशत कैंडिडेट्स इस एग्जाम में शामिल ही नहीं हुये. इस एग्जाम को संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) खुद कंडक्ट कराता है. पटना के कॉलेज ऑफ कॉर्मस, TPS कॉलेज,  AN कॉलेज सहित कुल 99 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे.

आजमगढ़: फर्जी वोटिंग को लेकर दो गुटों में झड़प, अराजकतत्वों ने बैलेट बॉक्स में डाला पानी, चुनाव रद्द
NDA के एग्जाम को लेकर पटना के हर एक सेंटर पर कड़ी निगरानी थी. सभी सेंटर पर CCTV से मॉनिटरिंग की गई. इसके अलावा करीब 300 मजिस्ट्रेटों को निगरानी के लिए ड्यूटी पर लगाया गया था. सुरक्षा के लिए SI, ASI समेत करीब 500 पुलिस के जवानों को अलग-अलग सेंटरों पर तैनात किया गया था.

पटना के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर 10 हजार अभ्यर्थी NDA की लिखित परीक्षा में शामिल हुए. लिखित परीक्षा में एक पेपर मैथ्स का था, जो 300 अंकों का था. इसमें 120 प्रश्न पूछे गए, जिसके लिए समय 2.30 घंटे का रहा. वहीं दूसरा पेपर में जनरल एबिलिटी टेस्ट का था, जो 600 नंबर का था. इसमें 150 प्रश्न पूछे गए, जिसके लिए समय 2.30 घंटे का रहा. पटना के मिलर हाईस्कूल में 480 में 239 छात्र NDA का एग्जाम दिये. मिलर स्कूल के 2 टीचर पॉजिटिव हैं. एक व्यवसायिक और एक साइंस के टीचर यहां पहले से पॉजिटिव हैं. टीचर के पॉजिटिव होने की सूचना जिला प्रसाशन को नहीं दी गई थी. प्राचार्य का कहना है कि थर्मल स्कैनिंग से जांच की गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज