Home /News /bihar /

हाथी के नाम पर 5 करोड़ की संपत्ति करने वाले इमाम अख्तर की हत्या मामले का खुलासा, 2 गिरफ्तार

हाथी के नाम पर 5 करोड़ की संपत्ति करने वाले इमाम अख्तर की हत्या मामले का खुलासा, 2 गिरफ्तार

इमाम अख्तर और हाथी वाले अख्तर मुखिया के हत्या मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है.

इमाम अख्तर और हाथी वाले अख्तर मुखिया के हत्या मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है.

Dandapur Murder Case: बिहार के दानापुर में फुलवारी शरीफ और जानीपुर पुलिस ने जानीपुर थाना अंतर्गत मुर्गियाचक में 3 नवंबर को हुए इमाम अख्तर के हत्या मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि गिरफ्तार युवक में एक सुपारी देने वाला सज्जू और दूसरा सुपारी लेकर हत्या करने वाला सोनू और उसका साथी शूटर है. इसकी जानकारी देते हुए फुलवारी शरीफ एसपी मनीष कुमार सिन्हा ने बताया कि 3 नवंबर को 11:30 बजे जानीपुर थाना क्षेत्र के मुर्गियाचक में अख्तर इमामपुर उर्फ अख्तर मुखिया की उसके दलान के गेट पर ही तीन अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी.

अधिक पढ़ें ...

दानापुर- बिहार के दानापुर में फुलवारी शरीफ और जानीपुर पुलिस ने जानीपुर थाना अंतर्गत मुर्गियाचक में 3 नवंबर को हुए इमाम अख्तर के हत्या मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि गिरफ्तार युवक में एक सुपारी देने वाला सज्जू और दूसरा सुपारी लेकर हत्या करने वाला सोनू और उसका साथी शूटर है. इसकी जानकारी देते हुए फुलवारी शरीफ एएसपी एसपी मनीष कुमार सिन्हा ने बताया कि 3 नवंबर को 11:30 बजे जानीपुर थाना क्षेत्र के मुर्गियाचक में अख्तर इमामपुर उर्फ अख्तर मुखिया की उसके दलान के गेट पर ही तीन अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. एक के बाद एक लगभग 8 गोलियां मारी गई थी, जिसके बाद इमाम अख्तर की मौत हो गई थी.

इस कांड में पुलिस घटना के दिन से ही अनुसंधान में जुट गई थी और सीसीटीवी के साथ-साथ टेक्निकल सर्विलांस के आधार पर अपराधियों तक पहुंचने में सफलता हासिल की. पुलिस ने सबसे पहले हत्या में शामिल सैफुद्दीन उर्फ सोनू जो खजेकलां का रहने वाला है उसे गिरफ्तार किया.

उसी से पूछताछ में यह बात सामने आई कि मृतक अख्तर इमाम और आलमगंज के रहने वाले मोहम्मद खुर्शीद उर्फ ढनढन जो कि सिपाही से रिटायर हो चुका है, उसके बीच में विवाद चल रहा था. इसी विवाद को लेकर के खुर्शीद का बेटा शहजादा और सज्जू ने अख्तर इमाम की हत्या की साजिश सितंबर महीने में ही रची थी. तीन शूटर को इमाम अख्तर की हत्या करने के लिए दो लाख की सुपारी भी दी थी.

सुपारी लेने के बाद सुपारी किलर लगातार अख्तर इमाम के घर जमीन खरीदने के नाम पर जाया करता था और रेकी करता था. सुपारी किलर में सोनू कई बार अख्तर इमाम के घर पर भी गया. इस दौरान उसकी मुलाकात चंदन से भी हुई. उसकी चंदन से भी कागजात के लिए बातचीत होती थी और यह सब फर्जी जमीन के कागज को लेकर के अक्सर इमाम के यहां हमेशा जाया करते थे.

इसी बीच में साजिश के तहत इमाम अख्तर की हत्या 3 नवंबर को सोनू और उसके साथियों ने गोलियों से भूनकर कर दी. एक के बाद एक आठ गोलियां मारी गई थीं. पुलिस ने जब अनुसंधान किया तो सोनू को पकड़ा और उस के माध्यम से सज्जाद उर्फ अज्जू को जिसके बाद परत दर परत खुलती चली गई. इसके बाद यह पता चला की हत्या किस वजह से हुई. फिलहाल दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. बाकी दो फरार अपराधियों के गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है .

इस हत्या के पीछे पहले मृतक के बेटे का हाथ पर सक गया लेकिन पुलिस अनुसंधान में सारी परत खुल गई. गौरतलब है कि अख्तर इमाम वही थे, जिन्होंने अपने हाथी के नाम 5 करोड़ की संपत्ति कर दी थी. वो उस समय से काफी चर्चा में रहे थे. हत्या उनके हाथीखाना में ही की गई थी.

Tags: Bihar News, Danapur news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर