बिहार: दरभंगा में दो नाव हादसों में चार की मौत

जिलाधिकारी ने इस घटना पर दुख व्यक्त किया हैं. उन्होंने अंचलाधिकारी को निर्देश दिया है कि आपदा प्रावधानों के तहत मृतकों के परिजनों को अनुग्रह अनुदान का भुगतान किया जाये.

जिलाधिकारी ने इस घटना पर दुख व्यक्त किया हैं. उन्होंने अंचलाधिकारी को निर्देश दिया है कि आपदा प्रावधानों के तहत मृतकों के परिजनों को अनुग्रह अनुदान का भुगतान किया जाये.

बिहार के दरभंगा में सोमवार को हुए दो नाव हासदों में चार लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी. एक नाव हादसे में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई.

  • Share this:
बिहार के दरभंगा जिले के कुशेश्वर स्थान थाना क्षेत्र के पास कमला नदी में एक नाव के पलट जाने से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई. ये लोग अपनी निजी नाव से जा रहे थे. मृतकों की पहचान हो गई है. मृतकों में बिसहरिया गांव के बोएलाल मुखिया की पत्नी फूलकुमारी देवी (35) और उनके बेटे अंकुश कुमार (8) और बेटी सुनीता कुमारी (4) शामिल हैं.



मुखिया अपनी निजी नाव से अपने पूरे परिवार के साथ सोमवारी को लेकर कुशेश्वर स्थान स्थित शिव मंदिर आए थे. लौटने के क्रम में नाव पलट गई. मुखिया ने नाव से कूद कर अपनी जान बचाई लेकिन अपनी पत्नी और बच्चों को नहीं बचा सके. जिलाधिकारी ने इस घटना पर दुख व्यक्त किया हैं. उन्होंने अंचलाधिकारी को निर्देश दिया है कि आपदा प्रावधानों के तहत मृतकों के परिजनों को अनुग्रह अनुदान का भुगतान किया जाये. उन्होंने बताया कि घटना स्थल पर SDRF की टीम को भेजा गया है.



वहीं दूसरी घटना कुशेश्वरस्थान थाना क्षेत्र के नदियामी गांव की है.  यहां मछली मारने गये एक मछुआरे की मौत नाव डुबने से हो गई. नदियामी गांव निवासी लालन मुखिया (50) अपने पुत्र सिकन्दर मुखिया (18) के साथ मछली मारने गया था. इसी बीच तेज आंधी के चपेट में आ जाने से पलट गई. इस नाव दुर्घटना में लालन मुखिया हो गई. जबकि उसी नाव पर सवार पर सिकन्दर मुखिया तैर कर किनारे आ गया.

ये भी पढ़ें:
विधवा महिला पर अपराधियों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, तीन गोली लगने से मौके पर मौत





बदमाशों ने युवक की हत्या कर निकाल लीं दोनों आंखें, फिर नहर में फेंक दिया शव
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज