बिहार चुनाव 2020: मांझी का तेजस्वी पर 'प्रहार', कहा- युवा नौकरी न करें, नौकरी करना नीच काम

पूर्व मुख्यमंत्री और HAM के अध्यक्ष जीतन राम मांझी का नौकरियां के संबंध में दिया गया बयान तेजस्वी यादव पर निशाना साधने के रूप में देखा जा रहा है
पूर्व मुख्यमंत्री और HAM के अध्यक्ष जीतन राम मांझी का नौकरियां के संबंध में दिया गया बयान तेजस्वी यादव पर निशाना साधने के रूप में देखा जा रहा है

दरभंगा (Darbhanga) के बहादुरपुर विधानसभा क्षेत्र (Bahadurpur Assembly Seat) में एक जनसभा को संबोधित करते हुए जीतन राम मांझी ने बिना तेजस्वी यादव का नाम लिए कहा, जो लोग नौकरी देने की लालच देते हैं वो गलत करते हैं. वो युवाओं को बरगला रहे हैं, युवाओं को भटकाने का काम कर रहे हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2020, 11:21 PM IST
  • Share this:
दरभंगा. बिहार के चुनावी मौसम (Bihar Assembly Election 2020) में वोटरों को लुभाने के लिए नेताओं और राजनीतिक पार्टियों की बयानबाजी जारी है. इसी कड़ी में पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (HAM) के अध्यक्ष जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने नौकरियों को लेकर अजीबोगरीब बयान दिया है. मंगलवार को दरभंगा (Darbhanga) के बहादुरपुर विधानसभा क्षेत्र (Bahadurpur Assembly Seat) में एक जनसभा को संबोधित करते हुए मांझी ने कहा, युवा नौकरी मत करें, नौकरी करना नीच काम है. जो कहते हैं नौकरी देने की बात वो युवा को भटकाने का काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि युवा खुद का करोबार करें. युवाओं को नौकरी का लालच देना गलत बात है, यह उन्हें रास्ते से भटकाना है.

स्पष्ट है कि मांझी यह बयान देकर महागठबंधन के सीएम कैंडिडेट और राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है. पूर्व मुख्यमंत्री यहां बिहार सरकार में मंत्री और जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) के प्रत्याशी मदन सहनी के लिए प्रचार करने पहुंचे थे. मंच से भाषण देते हुए मांझी ने युवकों को नौकरी वाले मुद्दे पर अजीबोगरीब दलील देते हुए उनसे नौकरी नहीं करने की अपील की. उन्होंने कहा कि नौकरी करना बेहद नीच काम है, यह काम किसी को नहीं करना चाहिए. उन्होंने अपना अनुभव सुनाते हुए कहा कि मैंने 13 साल नौकरी की है. इसलिए मैं जानता हूं, यह पुरानी बात है. नौकरी की तरफ किसी भी सूरत में नहीं जाना चाहिए.

अपने भाषण में बिना नाम लिए तेजस्वी यादव पर साधा निशाना



उन्होंने बिना तेजस्वी यादव का नाम लिए कहा जो लोग नौकरी देने की लालच देते हैं वो गलत करते हैं. वो युवाओं को बरगला रहे हैं, युवाओं को भटकाने का काम कर रहे हैं.
मांझी ने सभा में उपस्थित लोगों को नसीहत देते कहा कि हम आप लोगों को वास्तविक रास्ते पर ले जाना चाहते हैं, आप लोगों को नौकरी के बदले अपना छोटा-छोटा काम करना चाहिए, छोटा-मोटा उधोग लगाना चाहिए. नौकरी तो किसी हाल में नहीं करना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज