हायाघाट विधानसभा सीट: क्‍या इस बार भी जनता पर अपनी पकड़ बरकरार रख पाएंगे अमरनाथ गामी, महागठबंधन दे रहा चुनौती


अमरनाथ गामी के सामने तीसरी बार चुनाव जीतने की चुनौती है.
अमरनाथ गामी के सामने तीसरी बार चुनाव जीतने की चुनौती है.

Bihar Assembly Election 2020: हायाघाट विधानसभा सीट (Hayaghat Assembly Seat) पर इस बार दिलचस्‍प मुकाबला देखने को मिल सकता है. 2010 में भाजपा और 2015 में जेडीयू के टिकट पर जीते अमरनाथ गामी को महागठबंधन से कड़ी चुनौती मिलने की उम्‍मीद है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 22, 2020, 11:09 PM IST
  • Share this:
दरभंगा. बिहार के दरभंगा जिले की हायाघाट विधानसभा सीट (Hayaghat Assembly Seat) पर इस बार भी दिलचस्‍प मुकाबला देखने को मिल सकता है. हालांकि इस विधानसभा चुनाव (Assembly Election) में मौजूदा विधायक अमरनाथ गामी के सामने बड़ी चुनौती है. दरअसल गामी इस सीट पर पिछले दो बार से विधायक चुनते आ रहे हैं और हर बार उन्‍होंने पार्टी बदली है. हालांकि इस बार हायाघाट विधानसभा सीट पर महागठबंधन और एनडीए के बीच कड़ी टक्‍कर होने की उम्‍मीद है.

क्‍या तीसरी बार भी बाजी मारेंगे गामी
2010 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर अमरनाथ गामी ने जीत हासिल की थी. उन्होंने लोजपा के शहनवाज अहमद कैफी को मात दी थी. कांग्रेस के अरविंद कुमार चौधरील तीसरे स्थान पर रहे थे.जबकि कुल 14 उम्मीदवारों ने किस्मत आजमाई थी. 2015 के विधानसभा चुनाव में अमरनाथ गामी ने पाला बदल लिया और इस बार वे जेडीयू (जनता दल युनाइटेड) के उम्मीदवार के तौर पर मैदान में उतरे और जीत हासिल की. अमरनाथ गामी को 65,677 वोट मिले थे और उन्होंने लोक जनशक्ति पार्टी के रमेश चौधरी (32,446) को हराया था.जबकि शिवसेना के उम्मीदवार राम शंकर चौधरी तीसरे स्थान पर रहे थे. 2015 के चुनाव में हायाघाट विधानसभा सीट पर 14 उम्मीदवार मैदान में थे. इससे पहले 1995 और 2005 में हरिनंदन यादव ( जनता दल और राजद), 2000  में उमाधर प्रसाद सिंह (आईएनड) और 1990 में काफिल अहमद ( जनता दल) ने यहां बाजी मारी है.

बहरहाल, हायाघाट विधानसभा क्षेत्र में कुल 2,19,644 मतदाता हैं, जिसमें 1,16,241 पुरुष और 1,03,396 महिलाएं शामिल हैं. वहीं, 2015 के विधानसभा चुनाव में 56.1 फीसदी मतदाताओं ने अपने मत का इस्तेमाल किया था.
हायाघाट विधानसभा सीट के चुनावी मुद्दे


दरभंगा जिले हायाघाट विधानसभा सीट पर इस बार कई चुनावी मुद्दे हो सकते हैं, जिसमें बंद पड़ी अशोक पेपर मिल, हथौड़ी एवं हायाघाट में अधूरे पड़े पुल एवं एप्रोच रोड के अलावा बागमती नदी का सिरनिया-सिरसिया वाया हायाघाट-काराचीन का दोनों तरफ का क्षतिग्रस्त तटबंध शामिल है. वहीं, रोजगार, शिक्षा और कानून व्‍यवस्‍था भी अहम मुद्दा रहने वाला है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज