उत्तर बिहार के लोगों के लिए बड़ी सौगात, दरभंगा एम्स के लिए केन्द्र ने दी 1361 करोड़ रुपए के बजट को मंजूरी
Darbhanga News in Hindi

उत्तर बिहार के लोगों के लिए बड़ी सौगात, दरभंगा एम्स के लिए केन्द्र ने दी 1361 करोड़ रुपए के बजट को मंजूरी
केन्द्रीय मंत्री अश्विनी चौबे से मुलाकात करते दरभंगा के सांसद गोपाल जी ठाकुर

Darbhanga AIIMS: दरभंगा एम्स को लेकर संशय की स्थिति पिछले तीन सालों से बनी हुई थी, लेकिन अब इसके बनने का रास्ता साफ होता दिख रहा है. रिपोर्ट के अनुसार एम्स 750 बेड का होगा और निर्माण कार्य पर 1361 करोड़ रुपए की राशि खर्च होगी.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 7, 2020, 10:01 AM IST
  • Share this:
पटना. विधानसभा चुनाव से पहले राज्य से लेकर केंद्र सरकार सभी योजनाओं को धरातल पर पहुंचाने के लिए हर सम्भव प्रयास में जुटी है. अब केंद्र की ओर से दरभंगा एम्स (Darbhanga AIIMS) निर्माण  के लिए जहां वित्त मंत्रालय के व्यय समिति ने हरी झंडी दे दी है, वहीं उत्तरी बिहार वासियों को सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का भी जल्द तोहफा मिलने वाला है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के प्राइमरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट के तहत दरभंगा एम्स में 750 बेड की व्‍यवस्‍था होगी. सरकार ने इसके निर्माण में 1361 करोड़ रुपये खर्च करने की सहमति दी है. केंद्रीय वित्त सचिव की अध्यक्षता में हुई व्यय वित्त समिति की बैठक में स्वास्थ्य मंत्रालय के प्राइमरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने मुहर लगाते हुए अनुमानित राशि की स्वीकृति प्रदान कर दी है. प्राइमरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट के अनुसार एम्स 750 बेड का होगा और निर्माण कार्य पर 1361 करोड़ रुपए की राशि खर्च होगी.

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने दरभंगा के सांसद गोपाल जी ठाकुर के आग्रह पर एम्स एवं सुपर स्पेशलिटी के निर्माण कार्य की समीक्षा की. दरभंगा सांसद ने मौजूदा स्थिति से अवगत कराया और केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री चौबे ने बताया कि दरभंगा एम्स को लेकर वित्त मंत्रालय के व्यय वित्त समिति बैठक हाल ही में संपन्न हुई है. अब हरी झंडी मिलने के बाद कार्य और तेज गति से बढ़ेगा. विभागीय स्तर पर एवं अन्य मंत्रालयों से संबंधित कार्यों को तेजी से मूर्त रूप दिया जा रहा है. बिहार का दूसरा एम्स दरभंगा में खुलने से उत्तर बिहार की जनता को इसका काफी लाभ मिलेगा.



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में बेहतर, आधुनिक व सस्ती स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए केंद्र सरकार कटिबद्ध है और इसे ध्यान में रखते हुए बिहार में  पांच सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का निर्माण हो रहा है. सांसद गोपाल जी ठाकुर ने दरभंगा में सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के निर्माण कार्य की मौजूदा स्थिति से भी केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री को अवगत कराया. उन्होंने मुजफ्फरपुर और दरभंगा के सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के निर्माण कार्यों की समीक्षा की और निर्माण एजेंसी को निर्देशित किया कि यथाशीघ्र ओपीडी की व्यवस्था वहां शुरू हो सके.
उन्होंने माना कि कोविड-19 की वजह से कार्य में विलंब हुआ है, लेकिन अब और ज्यादा वक्त नहीं लगेगा. केंद्रीय राज्यमंत्री चौबे ने निर्माण कार्य में स्थानीय श्रमिकों को प्राथमिकता देने का निर्देश दिया. जाहिर है पिछले 3 साल से लगातार दरभंगा एम्स को लेकर संशय बरकरार था. पहले जमीन अधिग्रहण करने में समस्या आयी और जब सरकार से अनुमति मिली थी तो कोविड की वजह से निर्माण कार्य में बाधा उत्पन्न हुआ. अब केंद्र सरकार से राशि की स्वीकृति मिलने के बाद लक्ष्य है कि अगले कुछ दिनों में ही निर्माण कार्य शुरू हो सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज