बच्चों की मौत पर कीर्ति आजाद ने मांगा सीएम नीतीश कुमार का इस्तीफा

कांग्रेस नेता कीर्ति आजाद ने कहा कि बिहार सरकार संवेदनशील नहीं है. इस परिस्थिति में नीतीश कुमार का मुख्यमंत्री पद पर बने रहना बेहद शर्मनाक है.

News18 Bihar
Updated: June 23, 2019, 6:45 AM IST
बच्चों की मौत पर कीर्ति आजाद ने मांगा सीएम नीतीश कुमार का इस्तीफा
कीर्ति आजाद (फाइल फोटो)
News18 Bihar
Updated: June 23, 2019, 6:45 AM IST
बिहार में एक्यूट इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) यानी चमकी बुखार से बच्चों की मौत का सिलसिला लगातार जारी है. वहीं, पूर्व सांसद और कांग्रेस नेता कीर्ति आजाद ने मांग की है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार चमकी बुखार से हो रही बच्चों की मौत की जिम्मेदारी लेते हुए पद से इस्तीफा दें. दरभंगा पहुंचे कीर्ति आजाद ने मुख्यमंत्री को याद दिलाया कि किस तरह अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में रेल दुर्घटना होने पर नीतीश कुमार ने रेल मंत्री से अपना इस्तीफा दिया था. उसी तरह बच्चों की मौत नहीं रोक पाने के कारण वह नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दें.

कांग्रेस नेता ने कहा कि बिहार सरकार संवेदनशील नहीं है. इस परिस्थिति में नीतीश कुमार का मुख्यमंत्री पद पर बने रहना बेहद शर्मनाक है. वह इतने पर ही नहीं रुके बल्कि सरकार की चुप्पी पर भी हमला करते हुए कहा कि सरकार के पास कोइ जवाब नहीं, इसलिए वे चुप हैं. बताते चलें कि बिहार में एईएस से बच्चों की मौत का आंकड़ा 167 पार कर चुका है. वहीं, करीब 650 से अधिक मरीज प्रभावित हुए हैं. केवल मुजफ्फरपुर में ही एईएस से 129 बच्चे असमय काल के गाल में समा चुके हैं.

केंद्र से विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम पहुंची
केंद्र सरकार के अपर सचिव मनोज झलानी, एडीशनल हेल्थ सेक्रेटरी (बिहार) कौशल किशोर, दिल्ली के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. अरुण कुमार सिंह, दिल्ली से संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ. सत्यम, बिहार के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार और जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष शुक्रवार को मुजफ्फरपुर के श्री कृष्ण मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (एसकेएमसीएच) पहुंचे. उन्होंने पीआईसीयू का निरीक्षण कर पीड़ित बच्चों का हाल जाना और डॉक्‍टर्स के साथ बैठक की.

(रिपोर्ट- विपिन कुमार दास)

ये भी पढ़ें-

चमकी बुखार: मौत का आंकड़ा 160 के पार, सेंट्रल टीम ने की जांच
Loading...

बिहार पहुंचा मानसून, AES पीड़ित बच्चों को मिल सकती है राहत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दरभंगा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 23, 2019, 6:33 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...