न्यूज 18 की मुहिम को मिला मुकाम, 11 साल बाद बांग्लादेश से वतन वापस लौटा सतीश

सीएम नीतीश कुमार के स्तर से होम सेक्रेट्री, बिहार और डीएम, दरभंगा को कारवाई के लिए निर्देश भेजा गया. न्यूज 18 ने इस मामले में पहल की और 31 जुलाई को प्रमुखता से खबर प्रसारित की थी. अब जब सतीश अपने वतन लौट आया है तो यह साफ है कि न्यूज 18 की मुहिम को बड़ा मुकाम मिला है.

News18 Bihar
Updated: September 12, 2019, 2:31 PM IST
न्यूज 18 की मुहिम को मिला मुकाम, 11 साल बाद बांग्लादेश से वतन वापस लौटा सतीश
11 साल बाद बांग्लादेश से अपने वतन वापस लौटा सतीश.
News18 Bihar
Updated: September 12, 2019, 2:31 PM IST
पटना. बांग्लादेश (Bangladesh) की जेल में 11 साल से कैद सतीश आखिरकार रिहा हो रहा है. भारत-बांग्लादेश बॉर्डर (Indo-Bangladesh Border) पर सतीश को उसके परिजनों को सौंप दिया गया. फिलहाल स्थानीय प्रशासन सतीश (Satish) का मेडिकल चेकअप करवा रहा है. बता दें कि न्यूज 18 ने ये खबर प्रमुखता से दिखाई थी. बता दें कि दो दिन पहले ही सूचना आई थी कि बांग्लादेश की सरकार ने ढाका स्थित हाई कमीशन ऑफ इंडिया को सूचित किया है कि 12 सितंबर को दर्शना गेडे बार्डर पर बार्डर गार्डस बांग्लादेश (BGB)सतीश चौधरी को बार्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF)के हवाले करेगा. गुरुवार को सतीश को भारतीय अधिकारियों को सौंप दिया गया.

2008 में पटना से हुआ था गायब
गौरतलब है कि 2008 में मानसिक तौर पर बीमार सतीश चौधरी इलाज के लिए पटना आया था और फिर अचानक गायब हो गया. बाद में 2012 में जानकारी मिली कि वह बांग्लादेश की जेल में बंद है. अपने भाई को छुड़ाने के लिये सतीश के छोटे भाई मुकेश चौधरी ने सालों साल प्रयास किया. 2012 में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी मुलाकात की थी. लेकिन अब उसे सफलता हाथ लगी है.

Bangladesh
सतीश को भारतीय अधिकारियों को सौंपने की तस्वीर.


पीएमओ ने की मदद
दरअसल मामले में पीएमओ ने विदेश मंत्रालय को निर्देश दिया था. विदेश मंत्री के स्तर पर इसे हाई कमीशन ऑफ इंडिया बांग्लादेश को कारवाई के लिए भेजा गया. जिसके बाद हाई कमीशन के काउंसलर गौतम विश्वास ने परिजनों से टेलीफोन पर बातचीत की और ईमेल भेजकर सतीश चौधरी का नागरिकता प्रमाण पत्र उपलब्ध करवाने का अनुरोध किया गया.

Bangladesh
बांग्लादेश में 11 साल तक कैद रहे सतीश केचेहरे पर वतन वापसी की खुशी साफ दिख रही है.

Loading...

सीएम नीतीश की तरफ से मिले थे निर्देश
सीएम नीतीश कुमार के स्तर से होम सेक्रेट्री, बिहार और डीएम, दरभंगा को कारवाई के लिए निर्देश भेजा गया. न्यूज 18 ने इस मामले में पहल की और 31 जुलाई को प्रमुखता से खबर प्रसारित की थी. अब सतीश अपने वतन लौट आया है.जाहिर है न्यूज 18 की मुहिम को अहम मुकाम मिला है.

रिपोर्ट- संजय कुमार

ये भी पढ़ें- 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दरभंगा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 2:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...