बिहार: बर्थ डे केक लेने निकले पिता को पुलिस ने वापस लौटाया, फिर खुद केक लेकर पहुंचे थानेदार
Darbhanga News in Hindi

बिहार: बर्थ डे केक लेने निकले पिता को पुलिस ने वापस लौटाया, फिर खुद केक लेकर पहुंचे थानेदार
बिहार के दरभंगा में चार साल के बच्चे का जन्मदिन मनाती पुलिस

Lockdown 2.0: दरभंगा के एसएसपी (SSP) बाबूराम ने कहा कि बच्चे की ख़ुशी के लिए ऐसा किया गया, ताकि बच्चे में निराशा का भाव नहीं रहे.

  • Share this:
दरभंगा. बिहार के दरभंगा में एक बार फिर से पुलिसिंग का मानवीय चेहरा देखने को मिला है. देशभर में कोरोना महामारी (Corona Epidemic) को लेकर जारी लॉकडाउन (Lockdown) के बीच यहां 4 साल के बच्चे के जन्मदिन पर केक खरीदने निकले पिता को दरभंगा की यातायात पुलिस ने रोका और कोरोना बंदी के साथ खतरनाक कोरोना वायरस का हवाला देकर घर वापस भेज दिया, लेकिन इसके बाद जो हुआ इस पूरे परिवार के लिए यादगार बन गया.

अपने बेटे के जन्मदिन पर बिना केक लेकर पिता निराश घर लौट तो गया, लेकिन पुलिस के प्रति मन ही मन नाराज थे. दरभंगा पुलिस के प्रति नाराजगी तब खुशी में बदल गयी, जब वही पुलिस वाले हाथों में केक लेकर अचानक देर शाम उनके घर जा पहुंचे और बच्चे के साथ न केवल जन्मदिन का केक काटा, बल्कि चॉकलेट का गिफ्ट भी दिया.

देर शाम सरप्राइज देने पहुंची पुलिस
दरअसल, दरभंगा शहर के लहेरिया सराय थाना क्षेत्र के बैंक कॉलोनी निवासी अंकुर कुमार गुप्ता के पुत्र वेद गुप्ता का चौथा जन्मदिन था ऐसे में कोरोना बंदी की परवाह किये बिना बच्चे के पिता जन्मदिन के लिए केक खरीदने सड़क पर निकले. इस दौरान यातायात थाना प्रभारी जय नंदन प्रसाद ने उन्हें रोका और बाहर निकलने के साथ पूरा पता पूछने के बाद कोरोना बंदी का हवाला देकर वापस घर भेज दिया. बिना केक ख़रीदे पिता निराश होकर घर लौट गए, लेकिन डंडे का खौफ दिखाकर घर भेजने वाली पुलिस देर शाम अचानक उनके घर केक लेकर पहुंच गई तो सब हैरान हो गए.
केक देखते ही खिल उठा बच्चा


थोड़ी ही देर में घरवालों ने बर्थ डे ब्वॉय को पुलिसवालों के सामने लाया उसके बाद पुलिस वालों के साथ बच्चे ने केक काटकर अपना जन्मदिन मनाया. पुलिस के लोग बच्चे के लिए केक के साथ कैंडल, गुब्बारे और गिफ्ट में कुछ चॉकलेट भी लेकर पहुंचे थे.

एसएसपी बोले
इस मामले में दरभंगा के एसएसपी बाबूराम ने कहा कि बच्चे की ख़ुशी के लिए ऐसा किया गया, ताकि बच्चे में निराशा का भाव नहीं रहे. पुलिस के इस काम से पुलिस पब्लिक मित्रता को काफी बल मिलेगा और पुलिस के प्रति लोगों का और विश्वास भी बढ़ेगा.

ये भी पढ़ें- बिहार: शिक्षा मंत्री का स्टाफ पुलिस हिरासत में, जानें क्‍या है पूरा मामला

ये भी पढ़ें- पटना सहित बिहार के इन चार टीबी सेंटर्स पर भी होगी कोरोना की जांच
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज