• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • Exclusive : दरभंगा ब्लास्ट में अरेस्ट आतंकी नासिर का बड़ा खुलासा, जानकर सन्न रह जाएंगे आप

Exclusive : दरभंगा ब्लास्ट में अरेस्ट आतंकी नासिर का बड़ा खुलासा, जानकर सन्न रह जाएंगे आप

दरभंगा ब्लास्ट मामले में गिरफ्तार आतंकी नासिर ने एनआईए के सामने कई राज खोले.

दरभंगा ब्लास्ट मामले में गिरफ्तार आतंकी नासिर ने एनआईए के सामने कई राज खोले.

आतंकी नासिर ने एनआईए से कहा कि सिकंदराबाद दरभंगा ट्रेन को उड़ाने की साजिश थी. उसने पेपर की जगह हार्ड बोर्ड रख दिया था जो एक बड़ी चूक हुई. हार्ड बोर्ड की वजह से ही केमिकल को मिलने में देरी हुई, जिसकी वजह से चलती ट्रेन में धमाका नहीं हो सका.

  • Share this:
पटना. दरभंगा ब्लास्ट मामले में गिरफ्तार आतंकी नासिर ने NIA पूछताछ के दौरान जो राज खोले हैं, उसे जानकर सन्न रह जाएंगे आप. आतंकी नासिर ने पूछताछ में बताया कि उसकी एक चूक की वजह से बड़ा धमाका नहीं हो सका. अगर वह चूक नहीं होती तो पटरी पर दौड़ती ट्रेन में ही बड़ा धमाका होता. पूरी ट्रेन को ही उड़ाने की साजिश थी.

चलती ट्रेन उड़ाने की थी योजना

आतंकी नासिर ने एनआईए से कहा कि सिकंदराबाद दरभंगा ट्रेन को उड़ाने की साजिश थी. नासिर की माने तो उसने पेपर की जगह हार्ड बोर्ड रख दिया था जो एक बड़ी चूक हुई. हार्ड बोर्ड की वजह से ही केमिकल को मिलने में देरी हुई, जिसकी वजह से चलती ट्रेन में धमाका नहीं हो सका.

पाकिस्तान से मिली थी ट्रेनिंग

आतंकी नासिर ने NIA की पूछताछ में ये भी कहा कि ट्रेन में रखे बम को काजीपेट में ब्लास्ट होना था, लेकिन ये ब्लास्ट दरभंगा के प्लेटफॉर्म नंबर-1 पर हुआ. इसके साथ ही उसने स्वीकार किया है कि पाकिस्तान के इकबाल काना से उसे बम बनाने की ऑनलाइन ट्रेनिंग मिली थी. नाइट्रिक और सल्फ्यूरिक एसिड से उसने यह बम बनाया था. दोनों एसिड के मिलने के बाद ही धमाका होना था. लेकिन हार्ड बोर्ड की वजह से दोनों केमिकल के मिलने में देरी हुई लिहाजा ट्रेन में ब्लास्ट नहीं हो सका.

इन स्टेशनों के बीच होना था धमाका

दरअसल नाइट्रिक एसिड और सल्फ्यूरिक एसिड के पार्टिशन के बीच एक कागज रखना था, जो दोनों एसिड पेपर को जलाते और फिर दोनों एसिड के मिलने के बाद जोरदार धमाका होता. इकबाल ने दोनों एसिड के पार्टिशन में कागज रखने को कहा था, ताकि रामागुंडम और काजीपेट स्टेशन के बीच धमाका हो सके. चलती ट्रेन में धमाका करने की साजिश थी, लेकिन नासिर से चूक हो गई. उसने एसिड के बीच के पार्टिशन में कागज की जगह हार्ड बोर्ड रख दिया, जिसकी वजह से चलती ट्रेन में धमाका नहीं हो सका. दोनों एसिड दरभंगा स्टेशन पर पहुंचने के बाद मिले जिसके बाद ही धमाका हो सका.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज