बाढ़ का पानी घुसते ही टापू में तब्दील हो गया दरभंगा का ये सरकारी स्कूल और गांव

दरभंगा के सरकारी स्कूल में घुसा बाढ़ का पानी

दरभंगा जिला में घनश्यामपुर प्रखंड के सीओ दीनानाथ कुमार लगातार पुलिस के साथ सभी वैसे जगहों पर जाकर खुद मॉनिटर कर रहे हैं ताकि हालात बिगड़ने पर तुरंत राहत और बचाव कार्य शुरू किया जा सके.

  • Share this:
दरभंगा. उत्तर बिहार के दरभंगा (Darbhanga) जिला में बाढ़ का (Flood in Bihar) पानी तेजी से फैलने लगा है. जिला के घनश्यामपुर प्रखंड के दो गांव में बाढ़ का पानी फैल गया है. इलाके के रसियारी हाई स्कूल में भी बाढ़ का पानी पूरी तरह प्रवेश कर गया है और नदी के बीच में बसा पूरा गांव बाढ़ आने के बाद अब टापू बन चुका है. गांव में आने-जाने के लिए सिर्फ नाव ही एक सहारा बचा है. लोग अपने जरूरी काम के लिए नाव का सहारा ले रहे हैं.

दो गांव में घुसा पानी

कमला और कोसी नदी के दोनों तटबंध के बीच में घनश्यामपुर प्रखंड के 8 टोलें अवस्थित हैं जिनमें से दो गांवों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है. जिला प्रशासन द्वारा दोनों टोला के लोगों के लिए दो स्थलों पर सामुदायिक रसोई की व्यवस्था की गई है.

बांध पर अधिकारियों की नजर

अगर पानी की रफ़्तार इसी तरह बढ़ते रही तो स्थिति और खराब होने की आशंका है, हांलाकि फिलहाल लोग जैसे तैसे गांव में ही रहने को मजबूर है और अपना आशियाना छोड़ना नहीं चाह रहे हैं. फिलहाल कुछ जगहों पर जेसीबी मशीन की मदद से काम भी लिया जा रहा है ताकि पुल पुलिया और बांध को सुरक्षित रखा जा सके. हालात बिगड़ता देख प्रशासन के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे हैं और स्थिति का जायजा लिया. घनश्यामपुर प्रखंड के सीओ दीनानाथ कुमार लगातार पुलिस के साथ सभी वैसे जगहों पर जाकर खुद मॉनिटर कर रहे हैं ताकि हालात बिगड़ने पर तुरंत राहत और बचाव कार्य शुरू किया जा सके.

जिला पार्षद बोले

घनयश्याम प्रखंड के जिला पार्षद दीपक मिश्रा ने तटबंध टूटने को लेकर कहा कि कुछ असमाजिक तत्वों द्वारा तटबंध टूटने की अफवाह फैलाया गया था जो गलत है. इलाके में कोई तटबंध नहीं टूटा है बल्कि नदी का जलस्तर बढ़ा है, लेकिन इस बार बांध पर मजबूती के साथ काम किया गया है जिससे बांध टूटने की संभावना कम है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.