अधिकारियों ने नहीं की मदद, ग्रामीणों ने बना डाला बांस का चचरी पुल

सिंहवाड़ा प्रखंड के बिठौली गांव में बाढ़ की पानी ने न सिर्फ गांव-घर को डुबाया बल्कि पानी की तेज धार ने गांव के मुख्य सड़कों को भी काट कर दो हिस्सों में बांट दिया. ग्रामीणों ने अपने मेहनत के बल पर बांस का चचरी पुल बनाकर हजारों लोगों की आवाजाही का रास्ता बना दिया है.

Vipin Kumar Das | News18 Bihar
Updated: July 18, 2019, 4:17 PM IST
Vipin Kumar Das | News18 Bihar
Updated: July 18, 2019, 4:17 PM IST
कहते हैं कि अगर हौसले बुलंद हो तो बड़ी से बड़ी मुसीबतों को दूर किया जा सकता है. कुछ ऐसा ही कारनामा दरभंगा जिले के बिठौली गांव के लोगों ने कर दिखाया है. इन लोगों ने अपने मेहनत के बल पर बांस का चचरी पुल बनाकर हजारों लोगों की आवाजाही का रास्ता बना दिया है.

सिंहवाड़ा प्रखंड के बिठौली गांव में बाढ़ की पानी ने न सिर्फ गांव-घर को डुबाया बल्कि पानी की तेज धार ने गांव के मुख्य सड़कों को भी काट कर दो हिस्सों में बांट दिया. सड़क कटते ही गांव वालों को दोहरी मार झेलनी पड़ने लगी. एक तो उनका संपर्क अपने मुख्यालय से कट ही गया, साथ ही जरूरत के सामानों और बीमार लोगों के लिए गांव से निकल पाने में भी असमर्थ थे.

ग्रामीणों ने टूटे सड़कों को तुरंत मरम्मत कराने या फिर कोई वैकल्पिक उपाय कराने के लिए सरकारी बाबूओं से विनती भी की. लोकिन इसका कोई फायदा होता न देख गांव वालों खुद आपस में चंदा कर पहले कुछ पैसे एकत्र किए और खुद श्रमदान कर टूटी सड़कों पर बांस का एक चचरी पुल कुछ ही घंटों की मेहनत के बाद बना डाला.

बता दें कि बिहार में बाढ़ का कहर लगातार जारी है. बाढ़ त्रासदी में अब तक बिहार के 77 लोगों की मौत हो गई है, जबकि मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है. बिहार के 12 जिले में 79 प्रखंडों के 571 पंचायत बाढ़ग्रस्त हैं जबकि 26 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हैं. वहीं, बिहार सरकार ने बाढ़ स अब तक 33 लोगों के मौत की पुष्टि की है.

(दरभंगा से विपिन कुमार दास की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें-

बाढ़ में फंसे बिहार के 26 लाख लोग, अब तक 77 की हुई मौत
Loading...

बिहार: बाढ़ के बीच कम बारिश से 12 जिलों में सूखे के हालात

बिहार में बाढ़ का कहर, देखते ही देखते बह गई सड़क

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दरभंगा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 17, 2019, 11:34 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...