होम /न्यूज /बिहार /Darbhanga: 5 साल में बने मात्र 3.15 लाख आयुष्मान कार्ड, जानिए कुल कितने लोगों का है बनना 

Darbhanga: 5 साल में बने मात्र 3.15 लाख आयुष्मान कार्ड, जानिए कुल कितने लोगों का है बनना 

दरभंगा जिले में 27,89,706 लोगों का आयुष्मान कार्ड बनाया जाना है, लेकिन अभी तक मात्र 3,15,000 लोगों का ही कार्ड बन पाया ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    अभिनव कुमार

    दरभंगा. बिहार के दरभंगा जिले में आयुष्मान कार्ड बनने की रफ्तार काफी धीमी है. इसे देखते हुए लोगों को कार्ड बनाने की रफ्तार बढ़ाने के लिए जागरूक किया जा रहा है. दरभंगा के जिलाधिकारी (डीएम) राजीव रोशन ने हरी झंडी दिखाकर जागरुकता रथ को रवाना किया. दरअसल दरभंगा जिले में 27,89,706 लोगों का आयुष्मान कार्ड बनाया जाना है, लेकिन अभी तक मात्र 3,15,000 लोगों का ही कार्ड बन पाया है. इसको लेकर जिला मुख्यालय से विभिन्न प्रखंडों के लिए आयुष्मान रथ को रवाना किया गया. यह आयुषमान रथ प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में जाकर लोगों को आयुष्मान भारत के बारे में जागरूक करेगा, और उससे होने वाले फायदे की जानकारी देगा.

    LED स्क्रीन के माध्यम से दी जा रही आयुष्मान कार्ड की जानकारी

    दरभंगा जिला मुख्यालय से पांच आयुष्मान भारत जागरूक रथ को विभिन्न प्रखंडों में भेजा गया है. यह रथ सभी प्रखंड के पंचायत स्तर तक जाकर लोगों को आयुष्मान भारत की जानकारी देगा. इसमें एक एलईडी स्क्रीन वाला भी रथ है, जो लोगों को टीवी स्क्रीन के माध्यम से इस योजना से होने वाले फायदे दिखाएंगे. साथ में समाज के निचले तबके के लोगों को अधिक संख्या में आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए प्रेरित करेंगे.

    जिले के सभी पात्र परिवार का बनेगा कार्ड

    डीएम राजीव रोशन ने बताया कि दूर-दराज के क्षेत्र में लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से यह रथ रवाना किया गया है. यह रथ जिले के विभिन्न प्रखंडों और पंचायतों में घूम-घूम कर लोगों को जागरूक करेगा. जिले में जितने भी परिवार इसके पात्र हैं उनका आयुष्मान भारत कार्ड बन जाए. वो लोग इसका लाभ ले सकें, यही आयुष्मान भारत रथ कार्यक्रम का उद्देश्य है.

    आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए लोगों को किया जा रहा प्रेरित

    वहीं, दरभंगा के सिविल सर्जन डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि हमलोग प्रयास कर रहे हैं कि अधिक से अधिक संख्या में लोग आकर कार्ड बनवाएं. इस रथ को रवाना करने का उद्देश्य है कि लोग आयुष्मान भारत कार्ड की जानकारी ले सकें. इस रथ में एक एलईडी गाड़ी भी है जिसे जिलाधिकारी के द्वारा रवाना किया गया है. हमलोग यहां से पांच गाड़ियों को रवाना कर रहे हैं जो सभी प्रखंड में जाकर लोगों को जागरूक करेंगे और आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए प्रेरित करेंगे.

    27,89,706 लोगों का बनाया जाना है आयुष्मान कार्ड

    बता दें कि सितंबर 2018 से आयुष्मान कार्ड बनाने का काम शुरू किया गया है, लेकिन अभी तक जिले में मात्र 3,15,000 लोगों का ही यह कार्ड बन पाया है. आयुष्मान के जिला कार्यक्रम समन्वयक डॉ. वीरेंद्र कुमार ने बताया कि अधिकतर लाभुकों के आधार कार्ड और राशन कार्ड में नाम, पता आदि में कुछ न कुछ अंतर है जिसके कारण कुछ परेशानी आ रही है. इस योजना को गति देने के लिए जिला परियोजना प्रबंधक और श्रम अधीक्षक को भी पत्र लिखा गया है. इसमें कहा गया है कि 30 सितंबर तक आयुष्मान पखवारा मनाया जा रहा है जिसमें अधिक से अधिक लोगों का कार्ड सुनिश्चित किया जाए.

    Tags: Ayushman Bharat scheme, Bihar News in hindi, Darbhanga news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें