लाइव टीवी

गर्भवती बहू को बंधक बना कर 4 दिनों तक रखा भूखा, पुलिस ने किया रेस्क्यू

Vipin Kumar Das | News18 Bihar
Updated: March 29, 2018, 1:45 PM IST
गर्भवती बहू को बंधक बना कर 4 दिनों तक रखा भूखा, पुलिस ने किया रेस्क्यू
घटनास्थल पर पहुंची पुलिस

मुजफ्फरपुर जिले के सकरा थाना क्षेत्र के भरथीपुर निवासी राघवेंद्र सिंह की पुत्री अंशु कुमारी की शादी 26 मई 2013 को बहादुरपुर थाना क्षेत्र के खैरा गांव निवासी कामेश्वर सिंह के पुत्र बिट्टू सिंह के साथ हुई थी.

  • Share this:
बिहार के दरभंगा में दहेज प्रताड़ना का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. शादी के पांच साल बाद ससुरालवालों ने दहेज के लिये अपनी गर्भवती बहू को न सिर्फ बंधक बनाया बल्कि प्रताड़ना देने के साथ ही चार दिनों तक भूखे प्यासे बंधक बनाये रखा.

गर्भवती महिला को पुलिस ने ससुराल से मुक्त करवाया. महिला को मुक्त करवाने गई पुलिस के साथ पीड़िता का भाई भी था जिस पर ससुराल वाले ने हमला कर दिया. इस हमले में भाई जख्मी हो गया जिसका इलाज डीएमसीएच में चल रहा है.

घटना दरभंगा जिला के खैरा गांव की है. मुजफ्फरपुर जिले के सकरा थाना क्षेत्र के भरथीपुर निवासी राघवेंद्र सिंह की पुत्री अंशु कुमारी की शादी 26 मई 2013 को बहादुरपुर थाना क्षेत्र के खैरा गांव निवासी कामेश्वर सिंह के पुत्र बिट्टू सिंह के साथ हुई.

शादी के समय से ही ससुराल वाले दहेज की मांग करने लगे. कई बार दुल्हन के साथ मारपीट भी की गई. इस बीच पीड़िता ने एक बच्चे को जन्म भी दिया बावूजद इसके दहेज की मांग होती रही. फिलहाल पीड़िता छह माह से गर्भवती है बावूजद, ससुराल वाले दहेज के लिए प्रताड़ित कर फोन पर रुपये मंगवाने का दबाव दे रहा था.

विगत चार दिनों से स्थिति यह हो गई कि उसका खाना-पीना बंद कर एक कमरे में बंद कर दिया गया. इसकी जानकारी उसने मायके वाले को मिली. इसके बाद वे लोग अंशु को मुक्त कराने के लिए पुलिस के पास पहुंचे.

पुलिस पीड़िता को घर से बाहर निकालने में कामयाब रही. एएसपी दिलनवाज़ अहमद ने बताया कि लड़की के चाचा के शिकायत पर तुरंत पुलिस को भेज कर बंधक बनी महिला को मुक्त करवाया गया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दरभंगा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 29, 2018, 1:13 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर