दरभंगाः आठ सूत्री मांगों को लेकर पैरामेडिकल छात्रों ने शुरू किया अनिश्चितकालीन धरना

पैरामेडिकल छात्रों का कहना है कि जीएनएम और एएनएम और उनकी की चयन प्रकिया एक समान है फिर भी कई मामलों में उनसे भेदभाव क्यों किया जाता है

Anoop Padey | News18 Bihar
Updated: September 11, 2018, 10:50 PM IST
Anoop Padey | News18 Bihar
Updated: September 11, 2018, 10:50 PM IST
सरकार के आश्वासन के बावजूद मांगें पूरी नहीं होने पर पैरामेडिकल के छात्रों मंगलवार को दरभंगा मेडिकल कॉलेज परिसर में अनिश्चितकालीन धरना पर बैठ गए. छात्र बिहार राज्य पैरामेडिकल छात्र संघर्ष समिति की डीएमसीएच पैरामेडिकल शाखा के बताए जाते हैं.

यह भी पढ़ें-VIDEO: एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में अनोखा प्रदर्शन

दरभंगा मेडिकल कॉलेज परिसर में धरना पर बैठे छात्रों का कहना है कि पटना में आई बैंक के उदघाटन के मौके पर उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी और स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने उनकी मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया था,लेकिन आज तक उनकी एक भी मांग की पूरी नहीं हुई.

यह भी पढ़ें-IRCTC की पहल: दरभंगा से चलेगी सूफी सर्किट स्पेशल ट्रेन

पैरामेडिकल छात्रों का कहना है कि जीएनएम और एएनएम और उनकी की चयन प्रकिया एक समान है फिर भी कई मामलों में उनसे भेदभाव क्यों किया जाता है. उनके मुताबिक जीएनएम और एएनएम को हॉस्टल दिया जाता है, लेकिन अभी तक हॉस्टल सुविधी नहीं दी गई है. इसके अलावा छात्रों ने कौंसिल गठन, एकेडमिक कैलेंडर जारी करने, सही समय पर परीक्षा कराने की भी मांग की है. छात्रों का कहना है कि जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं होती वो अनशन पर बैठे रहेंगे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर