लाइव टीवी

Coronavirus: दरभंगा में छिपे थे 10 विदेशी नागरिक! जमातियों को छिपाने वालों पर FIR के आदेश
Darbhanga News in Hindi

News18 Bihar
Updated: April 5, 2020, 8:07 AM IST
Coronavirus: दरभंगा में छिपे थे 10 विदेशी नागरिक! जमातियों को छिपाने वालों पर FIR के आदेश
बिना सूचना के दरभंगा में 10 विदेशी नागरिकों के छिपे होने की सूचना पर जिला प्रशासन अलर्ट.

बिहार के दरभंगा में विदेशी नागरिकों के छिपाए जाने की सूचना मिलने के बाद एसएसपी ने इन्हें छिपाने वालों के खिलाफ एफआईआर करने का आदेश दिया है. बकौल एसएसपी दरभंगा में छिपे है 10 विदेशी नागरिक दरभंगा से चले गए हैं.

  • Share this:
दरभंगा. कोरोना वायरस के संक्रमण (Coronavirus infection) के खतरों को देखते हुए दरभंगा जिला प्रशासन और पुलिस अब उन लोगों के खिलाफ सख्त रुख अपना रहा है, जो सरकार के आदेश को मानने में कोताही या लापरवाही बरत रहे हैं. दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज (Nizamuddin Markaz) में तब्लीगी जमात में शामिल होने वालों के कोरोना पॉजिटिव आने की खबर सामने आते ही दरभंगा पुलिस भी अलर्ट हो गई है. इस बीच जैसे ही एक विदेशी मुस्लिम धर्मगुरु के दरभंगा पहुंचने की सूचना मिली पुलिस तुरंत इसकी जांच में जुट गई. पुलिस सूत्रों के मुताबिक दरभंगा में 10 विदेशी नागरिकों के आने की सूचना है. अब इन विदेशियों को छिपाने वालों के खिलाफ एफआईआर करने का आदेश दिया गया है.

पुलिस को नहीं लगी भनक

इतनी बड़ी संख्या में विदेशी नागरिकों के दरभंगा आने के बावजूद न तो किसी ने इसकी सूचना पुलिस को दी और न ही दरभंगा पुलिस को इसकी भनक तक लगी. बताया जा रहा है कि ये सभी विदेशी नागरिक दरभंगा में कई दिनों तक न सिर्फ रहे, बल्कि अलग-अलग मस्जिदों में जाकर चोरी छिपे अपने अभियान को अंजाम देकर निकल गए. निजामुद्दीन की घटना के बाद प्रशासन गंभीर हुआ और अब पुलिस और जिला प्रशासन सभी 10 विदेशी नागरिक के साथ-साथ मरकज से लौटे लोगों की जानकारी जुटाने में लगा है.



एसएसपी ने छिपाने वालों पर FIR के आदेश दिए



मामला सामने आते ही दरभंगा के एसएसपी बाबू राम ने मीडिया को बताया कि सभी 10 विदेशी नागरिक दरभंगा पहुंचे थे, जिनकी पूरी जानकारी मिल चुकी है. दरभंगा में इनके आने की सूचना किसी ने नहीं दी थी. ऐसे में जिन्होंने ने भी इन विदेशियों के रहने-ठहरने और खाने-पीने की व्यवस्था की थी, उन सभी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज़ की जाएगी. साथ ही सभी विदेशी नागरिकों के वीजा रद्द करने के लिए भी सरकार को लिखा जाएगा. बकौल एसएसपी दरभंगा में छिपे है 10 विदेशी नागरिक दरभंगा से चले गए हैं. 18 तारीख को आए थे और 21 को दरभंगा से निकले थे जबकि  24 को पटना से फ्लाइट से चले गए थे.

एसएसपी ने साफ शब्दों में निर्देश दिया कि निजामुद्दीन स्थित मरकज में हुए तब्लीगी जमात में शामिल होने वाले जितने भी लोग दरभंगा पहुंचे हैं, वे खुद कोरोना वायरस के संक्रमण की जांच कराने सामने आएं. उन्होंने कहा कि ऐसे सभी लोग पुलिस और प्रशासन को सहयोग करें, ताकि बीमारी का संक्रमण नहीं फैले और उनका इलाज हो सके. एसएसपी ने कहा कि प्रशासन का सहयोग नहीं करनेवालों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

मरकज की हरकत से पूरा देश परेशान

मालूम हो कि निजामुद्दीन मरकज के जमात में शामिल न सिर्फ ज्यादातर लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जा रहे हैं, बल्कि मरकज से निकल कर लोग पूरे देश के अलग-अलग राज्य के विभिन्न जिलों में पहुंच गए हैं. इससे देशभर में अब कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने की आशंका और बढ़ गई है.

ये भी पढ़ें - 


Lockdown में बिहार आए अप्रवासियों की स्क्रीनिंग आज से, महाराष्ट्र से लौटे लोगों की पहले होगी जांच




दरभंगा DM ने कोरोना के संदिग्धों की स्क्रीनिंग की दी सलाह तो Facebook पर मिली जान से मारने की धमकी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दरभंगा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 4, 2020, 11:38 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading