दरभंगा स्टेशन पर बदरंग मिथिला पेंटिंग को देख लोगों में गुस्सा

बिहार की सांस्कृतिक राजधानी के तौर पर मशहूर दरभंगा में स्टेशन पर मिथिला पेंटिंग की दुर्दशा से कला प्रेमियों में काफी रोष है. स्टेशन पर बदरंग मिथिला पेंटिंग रेलवे प्रशासन की संवेदनहीनता को दर्शाने के लिए काफी है.

Vipin Kumar Das | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: January 13, 2018, 2:07 PM IST
Vipin Kumar Das | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: January 13, 2018, 2:07 PM IST
बिहार की सांस्कृतिक राजधानी के तौर पर मशहूर दरभंगा में स्टेशन पर मिथिला पेंटिंग की दुर्दशा से कला प्रेमियों में काफी रोष है. स्टेशन पर बदरंग मिथिला पेंटिंग रेलवे प्रशासन की संवेदनहीनता को दर्शाने के लिए काफी है. मैथिली और मिथिला पेंटिंग को दरभंगा ही नहीं पूरे मिथिलांचल की पहचान के तौर पर देखा जाता है. रेलवे को क्षेत्र की संस्कृति और कला का संवाहक माना जाता है, क्योंकि रेलवे के माध्यम से यात्रियों के साथ-साथ कला और संस्कृति का भी आदान-प्रदान होता है.

पिछले वर्ष 16 फरवरी को उपभोक्ता कल्याण संघ ने तत्कालीन रेलमंत्री सुरेश प्रभु को ट्वीट कर लंबी दूरी की ट्रेनों में साइन बोर्ड पर मिथिलाक्षर में लिखने और उस पर मिथिला पेंटिंग उकेरने का अनुरोध किया था. रेल मंत्रालय ने मामले को संज्ञान में लेते हुए समस्तीपुर के डीआरएम को निर्देश भी जारी कर दिया था. इसके बावजूद आज तक धरातल पर कोई पहल नहीं हो सकी है.

दरभंगा जंक्शन से महज 50 किलोमीटर की दुरी पर स्थित मधुबनी रेलवे स्टेशन के रेल परिसर की दीवारों पर 10 हजार स्क्वॉयर फीट में मिथिला पेंटिंग से जुड़े विश्व विख्यात कला के रंग बिखेरे गए हैं. जिसे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी इस स्टेशन का नाम दर्ज करने की चर्चा हुई. मिथिला पेंटिंग की वजह से हाल के ही दिनों में इस स्टेशन ने वैश्विक स्तर पर ख्याति भी बटोरी है. वहीं दरभंगा जंक्शन पर मिथिला पेंटिंग रेल प्रबंधन के उदासीन रवैये के कारण बर्बाद हो रही है. मिथिलाक्षर में जगह-जगह लिखे नाम भी मिट गए हैं.

दरभंगा जंक्शन के स्टेशन प्रबंधक अशोक कुमार सिंह की मानें तो समस्तीपुर रेल मंडल के डीआरएम मिथिला पेंटिंग को लेकर काफी गंभीर हैं और जंक्शन पर बन रहे वेटिंग हॉल में उनके निर्देश पर व्यापक रूप से मिथिला पेंटिंग को सुसज्जित किया जाएगा. साथ ही उन्होंने बताया कि शीघ्र ही जंक्शन पर यात्रियों को मिथिला की संस्कृति का नजारा दिखना शुरू हो जाएगा, इस दिशा में रेल प्रशासन ने तैयारी पूरी कर ली है.
First published: January 13, 2018, 12:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...