अपना शहर चुनें

States

साइकिल गर्ल ज्योति पासवान को नीतीश सरकार ने बनाया नशा मुक्ति अभियान का ब्रांड एम्बेसडर 

ज्योति पासवान बनीं नशा मुक्ति अभियान की ब्रांड एम्बेसडर.
ज्योति पासवान बनीं नशा मुक्ति अभियान की ब्रांड एम्बेसडर.

लॉकडाउन के दौरान अपने बीमार  पिता को साइकिल  से 1200 किलोमीटर का सफर तय कर दरभंगा लाने वाली साइकिल गर्ल ज्योति पासवान को नशा मुक्ति अभियान का ब्रांड एम्बेसडर (Brand Ambassador) बना गया है.

  • Share this:




दरभंगा. कोरोना काल (COVID-19) के लॉकडाउन में अपने बीमार पिता को साइकिल पर बिठा कर गुरुग्राम से तकरीबन 1200 किलोमीटर का सफर तय कर दरभंगा लाने वाली साइकल गर्ल ज्योति अब किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं. मजबूरी में धैर्य न खोते हुए ज्योति (Jyoti Paswan) ने अपने हिम्मत को बरकरार रखा और  गुरुग्राम से दरभंगा तक का सफर तय किया वो भी अपने बीमार पिता को साइकिल पर बिठा कर. तब ज्योति को इस अपने साहसिक काम के बाद देश विदेश में खूब सुर्खियां मिली थी.
अब ज्योति को समाज कल्याण विभाग ने भारत सरकार के नशा मुक्ति अभियान का ब्रांड एम्बेसडर बनाया है. इतना ही नहीं पटना से चलकर खुद समाजिक सुरक्षा के निदेशक दरभंगा के बहादुरपुर प्रखंड के बुनियादी केंद्र पहुंच ज्योति पासवान को न सिर्फ सम्मानित किया बल्कि ज्योति को पचास हजार की आर्थिक मदद करते हुए एक चेक भी दिया. साथ ही पढ़ाई में मदद के लिए एक स्मार्ट फोन भी दिया. साइकिल गर्ल ज्योति के साथ आये उनके पिता मोहन पासवान को भी सम्मानित किया गया.





सामाजिक सुरक्षा के निदेशक ने कही ये बात


सामाजिक सुरक्षा के निदेशक दयानिधान पांडे ने ज्योति के हिम्मत की खूब तारीफ की. साथ ही उसे भारत सरकार के नशा मुक्ति अभियान का ब्रांड एम्बेसडर बनाने का ऐलान भी किया. उन्होंने बताया कि ज्योति की कीर्ति अब पूरे दुनिया में फैल गई है. इसलिए रील वाले हीरो की जगह रियल होरो को ब्रांड एम्बेसडर बनाया गया है. ज्योति युवाओं के लिए एक प्रेरणाश्रोत है.




वहीं ज्योति कुमारी भी इस सम्मान से गदगद होती दिखाई दीं. ज्योति पासवान ने इस सम्मान के लिए सभी अधिकारियों को धन्यवाद किया और अपनी खुशी जाहिर की.











अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज