Assembly Banner 2021

लॉकडाउन के चलते पिता के शव को नहीं दे पाया कंधा, सोशल मीडिया पर बेटे की तड़प देख मदद को आए DM

मदद की गुहार के लिए दरभंगा के छात्र द्वारा फेसबुक पर लिखा गया पोस्ट

मदद की गुहार के लिए दरभंगा के छात्र द्वारा फेसबुक पर लिखा गया पोस्ट

दरभंगा (Darbhanga) के विरौल प्रखंड के पोखराम पंचायत के बलहा नडेगा गांव का रहने वाला सत्य नारायण साह मेडिकल (Medical) की तैयारी के लिए कोटा (Kota) में पढ़ाई करता है और लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान ही उसके पिता की मौत हो गई है. उसकी इस अपील पर डीएम ने संज्ञान लिया है.

  • Share this:
दरभंगा. कोरोना महामारी (Corona Epidemic) को लेकर हुए लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान ऐसे कई मामले सामने आए हैं जिसने लोगों को अपनों से जुदा किया है. बिहार के दरभंगा (Darbhanga) में एक बेटा अपने पिता की मौत के बाद उनका आखिरी दर्शन नहीं कर सका और न ही अंतिम संस्कार में शामिल होकर अपने पिता को कंधा दे पाया. उस बेटे की तड़प तब देखने को मिली जब उसने सोशल मीडिया (Social Media) पर अपनी दुःख भरी दास्तां लिखकर बिहार सरकार से मदद मांगी.

पिता की  इच्छा पूरी करने के लिए गया था कोटा

जानकारी के मुताबिक दरभंगा जिले के विरौल प्रखंड के पोखराम पंचायत के बलहा नडेगा गांव का रहने वाला सत्य नारायण साह मेडिकल की तैयारी के लिए राजस्थान के कोटा में रहकर पढ़ाई करता है. पिता की इच्छा पूरी करने के लिए बेटा दिन रात पढ़ाई में लगा रहा लेकिन इसी बीच पिता जगदीश साह की मौत की आई खबर ने उसे बेचैन कर दिया. सत्य नारायण ने लाख प्रयास किया लेकिन कोरोना बंदी  के कारण वो चाह कर भी तकरीबन 1500 किलोमोटर दूर अपने घर नहीं पहुंच सका.



अंतिम संस्कार के लिए मांगी मदद
पिता के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए लाचार बेटे ने अपने कोचिंग सेंटर के संचालक से लेकर बिहार सरकार तक से मदद मांगी लेकिन 24 घंटे से ज्यादा बीत जाने के बाद भी कोटा से दरभंगा आने का कोई रास्ता नहीं दिखा. सत्य नारायण साह तकरीबन चार साल से कोटा में रह कर मेडिकल की तैयारी कर रहा है. इसी साल जनवरी में अपने पिता के इलाज के कारण वो जनवरी माह में अपने घर दरभंगा आया था.

जिलाधिकारी ने दिया मदद का भरोसा

जब दरभंगा के जिलाधिकारी (डीएम) त्याग राजन एमएस के संज्ञान में यह मामला आया तो जिला पदाधिकारी ने मदद को लेकर स्टूडेंट से संपर्क करने का प्रयास किया है. डीएम खुद इस छात्र की मदद करने में जुटे हैं. डीएम ने इस संबंध में न्यूज़ 18 को बताया कि जिलास्तर से जो भी मदद किया जा सकता है उसके लिए प्रयास जारी है.

ये भी पढ़ें- पटना के PMCH में लगी आग, मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की तीन गाड़ियां

बिहार में एक साथ मिले कोरोना के 11 नए मामले, 126 हुई मरीजों की संख्या
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज