लाइव टीवी

मदरसे में 'भारत माता की जय' बोलने पर बच्चे की पिटाई

News18 Bihar
Updated: August 23, 2018, 6:47 AM IST

छात्र के पिता ने मदरसे के शिक्षक से शिकायत की तो वे इनके साथ भी मारपीट की गई

  • Share this:
बीते 15 अगस्त को एक मदरसे में झंडोतोलन के बाद भारत माता की जय बोलना एक छात्र को काफी महंगा पड़ा. मदरसे के एक मौलवी टीचर ने उस छात्र की न केवल पिटाई की बल्कि उसे मदरसे में आगे पढ़ाई करने पर भी रोक लगा दी. पूरा मामला बिहार के दरभंगा जिले के कमतौल थाने के राढ़ी उत्तरी गांव का है.

मामला इतने पर ही खत्म नहीं हुआ बल्कि छात्र के पिता ने मदरसे के शिक्षक से शिकायत की तो वे इनके साथ भी मारपीट की गई, जिसमें बच्चे के पिता का हाथ टूट गया जबकि मदरसे के टीचर भी इस घटना में घायल हो गए. इसके बाद छात्र के पिता ने मौलवी के खिलाफ थाने में लिखित शिकायत की. थाने के अधिकारी ने प्राथमिकी करने से ही इंकार कर दिया जिसके बाद छात्र के पिता दरभंगा मुख्यालय पहुंच कर तमाम बड़े अधिकारी से मिल इंसाफ की गुहार लगा रहे हैं. छात्र के पिता मुमताज ने दरभंगा के एसएसपी को भी लिखित शिकायत के साथ जिला शिक्षा पदाधिकारी को भी आवेदन देकर पूरे मामले की जांच कर उचित कार्रवाई करने की मांग की है.

ये भी पढ़ें: Inside Story: आखिर क्या है भोजपुर में हुए बवाल का 'रेडलाइट एरिया' कनेक्शन?

दरअसल, गांव के ही रिजवान 15 अगस्त को झंडा फहराने अपने मदरसा पहुंचा लेकिन झंडोतोलन के बाद अचानक रिजवान ने भारत माता की जय के नारे लगाने शुरू कर दिया. रिजवान की माने तो इसी नारे से मदरसे के मौलवी शिक्षक मोहम्मद तमन्ने का गुस्सा सातवें आसमान पर चढ़ गया. बौखलाए मौलवी ने सभी बच्चे को जाने दिया और और रिजवान को रोके रखा जैसे ही सब लोग मदरसे से निकला वैसे ही मौलवी ने रिजवान की पिटाई शुरू कर दी और खूब उलटी-सीधी बातें भी कही.

ये भी पढ़ें: बिना मेकअप ऐसी दिखती हैं भोजपुरी सिनेमा की ये टॉप-5 अभिनेत्रियां

चोट खाया रिजवान जब एक दिन बाद फिर पढ़ने मदरसा पहुंचा तो एक बार मौलवी शिक्षक तमन्ने ने इसे मदरसा में पढ़ाने से ही इंकार करते हुए उसे मदरसा से बाहर निकाल दिया. इसके बाद रिजवान ने पूरी घटना को अपने पिता मोहम्मद मुमताज से कही. मुमताज समय के अभाव में तुरंत तो मदरसा नहीं पहुंचा लेकिन राह चलते ही 19 अगस्त की शाम आरोपी मौलवी शिक्षक तमन्ने से मुलाकात होती है और अपने बेटे रिजवान की घटना के बारे में पूछताछ करने लगा. बात तू-तू मैं-मैं से बढ़कर मारपीट में तब्दील हो गया और दोनों तरफ से जमकर मारपीट हुई. इस घटना में छात्र के पिता मुमताज का हाथ टूट गया जिसके बाद दरभंगा में इलाज कराने के बाद कमतौल थाना अपनी शिकायल लेकर पहुंचा लेकिन थाना में उसकी शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज करने से साफ इंकार कर दिया. इसके बाद मुमताज दरभंगा पहुंच पुलिस के बड़े अधिकारी सहित एसएसपी के दफ्तर पहुंच न्याय के लिए आवेदन भी दिया. साथ ही जिला शिक्षा पदाधिकारी को भी लिखित शिकायत कर मदरसे की जांच कर उचित कार्रवाई की मांग की है.

ये भी पढ़ें: ग्राउंड जीरो से LIVE : भोजपुर में महिला को निर्वस्त्र करने की घटना की ये है हकीकतवहीं, मदरसे का शिक्षक मोहम्मद तमन्ने ने आरोपों से सीधे इंकार करते हुए कहा कि मैं कभी किसी बच्चे को भारत माता की जय बोलने से मन नहीं किया. खुद भी भारत माता की जय बोल कर इस बात के भी सबूत देने की कोशिश की. तमन्ने ने तो छात्र के पिता मुमताज पर ही तलवार से हमला करने का आरोप लगाया. तलवार से हुए हमले में बचने के कारण उनका हाथ भी घायल हो गया. तमन्ने ने कमतौल थाने में मुमताज के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है. शिक्षक के मुताबिक पुराने विवाद के कारण इस घटना को अंजाम दिया गया है.

ये भी पढ़ें: एकसाथ 7 भोजपुरी फ़िल्में साइन कर धमाल मचाएंगे रवि किशन

इधर, दरभंगा के एसएसपी मनोज कुमार ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मुमताज खुद जानलेवा हमला करने का आरोपी है और उससे बचने के लिए वह ऐसा काम कर रहा है. उन्होंने कहा पूरे मामले की जांच होगी लेकिन पहले जिस मामले में मुमताज आरोपी है, उस पर कार्रवाई होगी फिर उसके आरोपों की जांच होगी.

ये भी पढ़ें- भोजपुर: महिला को निर्वस्त्र करने की घटना के बाद दो थानाध्यक्ष समेत 8 पुलिसवाले सस्पेंड

बहरहाल, मामले की सच्चाई चाहे जो कुछ हो यह तो जांच के बाद साफ हो पाएगा, लेकिन पुलिस की बात को ही सही माने तो भी पुलिस पर कई सवाल खुद उठ रहे हैं. मसलन, छात्र के पिता मुमताज के लिखित शिकायत के बाद भी पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज क्यूं नहीं की ? मदरसे के शिक्षक के आवेदन पर छात्र के पिता के खिलाफ पुलिस प्राथमिकी दर्ज कर आखिर हाथ पर हाथ रख क्यूं बैठी है ? सबसे महत्वपूर्ण सवाल यह है कि अगर मुमताज के आवेदन पर प्राथमिकी ही नहीं हुई तो फिर पुलिस जांच क्या करेगी और बिना जांच के पुलिस इस निष्कर्ष पर कैसे पहुंच गई कि मुमताज मामले को दूसरा रंग दे रहा है?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दरभंगा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 22, 2018, 11:21 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर