एक दोस्त ने रेप ने किया और दो ने बनाया वीडियो, वायरल होने के बाद पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

दरभंगा में युवती से रेप कर वीडियो बनाया, दोबारा रेप में असफल होने पर वायरल (प्रतीकात्मक फोटो)

एक दोस्त ने बलत्कार किया वहीं दो दोस्त उसका वीडियो बना रहे थे. युवती गांव में ही अकेली खेत में काम करने आई हुई थी. पहली घटना उन लोगों ने 10 अप्रैल को अंजाम दे कर वीडियो बनाया और परिवार में किसी को बताने पर वीडियो वायरल करने की धमकी दी.

  • Share this:
दरभंगा. दरभंगा ( Darbhanga ) जिले से शर्मशार करने वाला मामला सामने आया है. यहो तीन दोस्तों पर एक युवती से रेप ( rape ) और उसका वीडियो बनाने का आरोप लगाया गया है. आरोप है कि एक दोस्त ने बलत्कार किया वहीं दो दोस्त उसका वीडियो बना रहे थे. युवती गांव में ही अकेली खेत में काम करने आई हुई थी. पहली घटना उन लोगों ने 10 अप्रैल को अंजाम दे कर वीडियो बनाया और परिवार में किसी को बताने पर वीडियो वायरल करने की धमकी दी. जिसके डर से युवती ने घर में कुछ नहीं बताया. इसके बाद 5 मई को आरोपी युवक पहुंच कर दुष्कर्म करने का प्रयास किया, जिसका विरोध युवती ने किया और भाग कर घर आ गई. जिसके बाद युवकों ने युवती के चाचा के मोबाइल पर 10 मई को वीडियो भेज दिया.

वीडियो देखते ही उसके परिजन सकते में आ गए. उन्होंने इस मामले की जानकारी पुलिस को दी. थाना पहुंच कर प्राथमिकी दर्ज करा दी. पूरी घटना में मुख्य आरोपी  युवक बाबू साहेब राय है, जबकि वीडियो बनाने वाला  देवा राय एवं राहुल राय है. पुलिस ने कारवाई करते हुये मुख्य आरोपी बाबू साहेब को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

कुशेश्वरस्थान थाना क्षेत्र के एक गांव में नाबालिग युवती के साथ बलात्कार किए जाने के मामले में मुकदता दर्ज किया गया है. डीएसपी दिलीप कुमार झा के निर्देश पर बिरौल थाना पुलिस के समक्ष पीडि़त लडक़ी के फर्द बयान पर प्राथमिकी दर्ज की गई है. दर्ज प्राथमिकी के अनुसार पीडि़ता के साथ 10 अप्रैल को घास काटने के दौरान मिसी गांव के एक युवक बाबू साहेब राय ने मुंह दबा कर जबरदस्ती बलात्कार करने लगा. वहीं दो युवक देवा राय एवं राहुल राय मिलकर इसका वीडियो बना लिया. तीनों लोगों ने वीडियो वायरल करने की धमकी देते हुए घटना की जानकारी किसी को नहीं देने को कहा.

दोबारा नहीं कर पाया दुष्कर्म तो किया वीडियो वायरल
फिर 5 मई को घास काटने के दौरान युवती से  बाबू साहेब राय ने छेडख़ानी करते हुए जबरदस्ती करने का प्रयास किया. विरोध करने पर वीडियो वायरल करने की धमकी देकर चला गया. इसके बाद आरोपी 10 मई को पीडि़ता के चाचा के मोबाइल पर वीडियो वायरल कर दिया. पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी बाबू साहेब को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी की जा रही है.

मामला हुआ राजनीतिक
इधर इस मामले में औराही पंचायत के सरपंच मेथो देवी एवं जेडीयू विधायक शशिभूषण हजारी के प्रतिनिधि राम औतार राय का पुत्र का नाम वीडियो बनाने वाले के रूप में आने से मामला राजनीतिक रूप ले लिया है.  प्रतिनिधि रामऔतार राय के भाई सरपंच के पति कैदार राय ने बताया कि इस घटना से उनके पुत्र का कोई लेना देना नहीं है. दरअसल पीडि़ता के पिता से उनके साथ कई वर्षों से विवाद चल रहा है. इसी लिए उनके पुत्र को बेवजह फंसाया गया है.