बिहार में क्वारंटाइन सेंटर के बाहर लटकती मिली मजदूर की लाश, गुत्‍थी सुलझाने में जुटी पुलिस
East-Champaran News in Hindi

बिहार में क्वारंटाइन सेंटर के बाहर लटकती मिली मजदूर की लाश, गुत्‍थी सुलझाने में जुटी पुलिस
क्वारेंटाइन सेंटर में हुई मजदूर की मौत के बाद रोते-बिलखते परिजन

बिहार के मोतिहारी में एक क्वारंटाइन सेंटर के बाहर महाराष्ट्र से लौटे मजदूर का शव पेड़ से लटकते मिलने पर ववाल. मजदूर के परिजनों ने वरिष्ठ अधिकारियों को मौके पर बुलाने की मांग को लेकर किया प्रदर्शन.

  • Share this:
मोतिहरी. बिहार के पूर्वी चम्पारण स्थित एक क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Center) में रह रहे प्रवासी मजदूर (Migrant Labor) की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई. पप्पू राम का शव गुरुवार की सुबह शव पेड़ से लटकता मिला. सूचना पर परिजन मौके पर पहुंचे और हंगामा करने लगे. घटना चकिया थाना के शीतलपुर पंचायत के हाताहरपुर गांव की है. प्रवासी मजदूर करीब 14 दिन पूर्व महाराष्ट्र के कोल्हापुर से लौटा था.

महाराष्ट्र से लौटा था मजदूर

14 दिनों से क्वारंटाइन की अवधि पूरा करने के बाद उसको गुरुवार को ही सेंटर से छुट्टी मिलनी थी कि आज शव मिला है. परिजनों का कहना है कि सात दिन पहले उत्क्रमित मध्य विद्यालय हाताहरपुर में बने क्वारंटाइन सेंटर में भोजन को लेकर दो पक्षों में मारपीट घटना हुई थी. ग्रामीणों का कहना है कि सेंटर पर रोजाना शराब की पार्टी भी होती रहती थी. ग्रामीणों की सूचना पर चकिया थाना पुलिस औऱ कल्याणपुर के बीडीओ मौके पर पहुंचे, लेकिन परिजन वरीय अधिकारियों के आने की मांग पर डटे रहे. इस दौरान उन्होंने पेड़ से लटके शव को भी उतारने से प्रशासन के लोगों को रोक दिया.



हत्या का आरोप
मृत मजदूर कल्याणपुर प्रखंड के शीतलपुर पंचायत के सिरसा पट्टी गांव का निवासी बताया जाता है. उसके भतीजे रमेश कुमार राम ने बताया कि महाराष्ट्र के कोल्हापुर से वह दो लोगों के साथ लौटा था. उसने बताया कि जब क्वारंटाइन सेंटर में शौचालय है तो वो कैसे रात में बाहर निकल सकते थे. ऐसे में उसने मिलीभगत से हत्या का आरोप लगया है.

पड़ताल में जुटी पुलिस

गांव के मुखिया राजीव रंजन ने बताया कि महाराष्ट्र से लौटे श्रमिक का शव पेड़ से लटकते मिला है. मुखिया बताते हैं कि बीती रात नौ बजे क्वारंटाइन सेंटर की सारी व्यवस्था को देखकर लौटे थे. तब वहां सब कुछ ठीक था, लेकिन आज सुबह पप्पू राम का शव पेड़ से लटकता मिला. यह सब कैसे हुआ यह जांच का विषय है. ग्रामीणों के हंगामा के बीच मौके पर पहुंची चकिया थाना पुलिस और कल्याणपुर के बीडीओ मूकदर्शक बने हुए हैं. उन्होंने कहा कि इस मामले में जांच की जाएगी.

 

ये भी पढ़ें- 2 महीने तक दिल्ली में उठाया 10 मजदूरों का खर्च फिर फ्लाइट से भेजा पटना

ये भी पढ़ें- 40 रोटी, 80 लिट्टी, 10 प्लेट चावल, अकेले ही क्वारेंटाइन सेंटर का दिवाला निकाल रहा है ये युवक
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading